सर्जिकल स्ट्राइक पर होनी चाहिए सेना की जयकार, किसी नेता या मंत्री की नहीं: मायावती

  |   समाचार

शुक्रवार को बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने कहा कि, "पाकिस्तान के साथ नियन्त्रण रेखा के भीतर आतंकी शिविरों को नष्ट करके उनको भारी नुकसान पहुँचाकर देश का मनोबल बढ़ाने वाली "सर्जिकल स्ट्राइक" कार्रवाई के लिए केवल सेना का ही अभिनन्दन और जय-जयकार होना चाहिये, किसी नेता या मंत्री आदि का नहीं'।

मायावती ने दावा किया कि वास्तव में लोगों की यह आशंका सही साबित होती जा रही है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में अपनी पार्टी की खराब स्थिति के मद्देनज़र बीजेपी व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार हिन्दू-मुस्लिम के बीच आपस में नफरत, तनाव और दंगा आदि फैलाकर वोटों का ध्रुवीकरण करना चाहती है।

वास्तव में ये दोनों सरकारें अगर उत्तर प्रदेश व यहाँ के विकास के प्रति थोड़ी भी गम्भीर होतीं और इनकी नीयत सही होती तो इन दोनों ही पार्टियों को अपनी-अपनी सरकार बनने के बाद योजनाओं पर काम काफी पहले शुरू कर देना चाहिये था, लेकिन ऐसा नहीं किया गया।

To read full article - https://goo.gl/6SbPTU