Day7⃣ 🙏 Shri Vighneshwar Vinayak of Ozhar

  |   Ganesh Slokas

श्‍लोक :
ॐ वक्र तुण्ड महाकाय सुर्यकोटि समप्रभः
निर्विघ्नं कुरु मे देवा सर्वकार्येषु सर्वदा ॥

भावार्थ :
ॐ - श्री विनायक को प्रणाम !
हे श्री गणेश जी! आपके घुमावदार सूंड , बड़े शरीर के प्रतिभा एक लाख सूर्य के सामान है । आप से प्रार्थना हैं की हमेशा हमारे सभी कार्यों के विघ्नों को हटा कर तथा बाधाओं से मुक्त कीजिये और हमें आप का कृपा पात्र बना दीजिये ।।

Meaning:
OM - Salutations to Lord Vinayaka !
O Lord Ganesha with Curved Trunk, Large Body, and with the Brilliance of a Million Suns, Please Make all my Works Free of Obstacles, Always and please make us a reservoir of Your Grace !

Original photo credits: https://goo.gl/jWmwl9
मूल फोटो क्रेडिट: https://goo.gl/jWmwl9