🙏 Shri Vighneshwar of Ozhar: The Temple

  |   Ganesh Slokas

Shri Vighneshwar of Ozhar: The Temple location: Like all Ashtavinayaka shrines, the central Ganesha image is believed to be svayambhu (self-existent), naturally occurring in the form of an elephant-faced stone. At the entrance there are two deepmalas i.e. stone pillar for oil lamps and two huge Dwarapalakas. The idol of Vigneshwar faces east and trunk turned towards left. The idol is smeared in vermillion mixed with oil and two emeralds studded eyes and a diamond in his forehead and in the navel. On the two sides are brass idols of Riddhi and Siddhi. Amongst all the Ashtavinayak Kshetra Vighneshwara Temple is the only temple with golden dome and pinnacle.The temple is situated on the banks of river Kukadi, in the village of Ozhar 182 km from Mumbai via Thane, Bapsai, Saralgaon. He gives happiness to devotees who abodes at Ozhar. 🔎 To know more about 'Indra' , 'Vighneshwara' and ' Vighnaharta', type: https://en.wikipedia.org/wiki/Vigneshwara_Temple,_Ozar

ओझर के श्री विघ्नेश्वर: स्थानीय मंदिर: सभी अष्टविनायक मंदिरों की तरह, यह विघ्नेश्वर की मूर्ती को भी स्वयंभू (स्वाभाविक रूप से ) हाथी के रूप में प्रकट हुआ , माना जाता है । वहाँ प्रवेश द्वार पर, दो पत्थर के खम्भे में तेल के दीपमाला तथा दो विशाल द्वारपालक खड़े हुए हैं । विग्नेश्वर की मूर्ति के चेहरे पूर्व की ओर और सूंड पश्चिम की ओर घूमा है। मूर्ति को खूबसूरती के साथ - तेल से मिलाया सिंदूर में लिप्त है, दो पन्ने जड़ी आँखें तथा उसके माथे व नाभि पर एक हीरे जड़े हुए हैं। दोनों पक्षों पर रिद्धि और सिद्धि की पीतल मूर्तियां हैं । श्री अष्टविनायक क्षेत्र मंदिरों में से यही एक विघ्नेश्वर मंदिर है - जिसमें स्वर्ण गुंबद और शिखर के साथ स्थापित है। यह मंदिर, मुंबई से १८२ कि.मी ठाणे, बापसै, सरलगाओं के रास्ते से, ओझर गांव में कुकड़ी नदी के तट पर स्थित है ।

🔎 ' श्री विघ्नेश्वर मंदिर के बारे में अधिक जानकारी के लिए, कृपया टाइप की जिए: https://goo.gl/cgrDNy

Original photo credits: https://goo.gl/jWmwl9मूल फोटो क्रेडिट: https://goo.gl/jWmwl9