श्री गणेश चालिसा - १९ -Shree Ganesh Chalisa- 19

  |   Ganesh Slokas

श्‍लोक:
तुम्हारी महिमा बुद्धि बढाई, शेष सहसा मुख सके न गई,
मैं मति हीन मलीना दुखारी, करहूँ कौन विधि विनय तुम्हारी ॥ १९ ॥
श्‍लोक भावार्थ :
आपका दैविक महिमा हमारी बुद्धि और ज्ञान को उत्थापित किया है, वापस घर जाने का हमारे शेष यात्रा, तुम्हारे बिना असंभव है । मैं आपके विनम्र भक्त हूँ , जो कभी दुखी नहीं हूँगा, अगर मैं विनय-पूर्वक आपके दिव्य मार्गदर्शन का पालन करता रहूँगा ॥१९ ॥
Shlok (Verse) Meaning:
Your Divine glory has raised our intellect and wisdom , our remaining journey back home will not be possible without you. I am your humble devotee who will never be unhappy, if I graciously follow your Divine guidance. (19)

📲 Get Ganesh Slokas on Whatsapp 💬

Original photo credit Duta User Shrinivas (909*67)