एक छात्र ने PM मोदी से की मन की बात, अब पूरा होगा पढ़ने का सपना

  |   समाचार

अपने दादा को कैंसर ,अल्जाइमर ,परकिंसन जैसे असाध्य रोगों से लड़ते देख मुजफ्फरपुर के दस साल के पोते को डाक्टर बनाने की ईच्छा हुई पर गांव में उच्च शिक्षा की व्यवस्था नहीं थी और न ही बच्चे के पिता उसे शहर के बड़े स्कूल मे पढ़ाने मे सक्षम थे।

पिता अरविंद मिश्रा और मां बिन्नी देवी के बेटे ने जब पीएम नरेंद्र मोदी को अपनी पीड़ा सुनाई, तो उनकी पहल पर केंद्रीय मानव संसाधन मंत्रालय ने दिव्यांशु के दाखिले की सिफारिश सीबीएसई बोर्ड से की।

पीएम ने मेरे बेटे की मन की बात सुन ली' डीएवी पब्लिक स्कूल के प्राचार्य जयश्री अशोकन के अनुसार मानव संसाधन विभाग की ओर से 16 मई को प्रेषित पत्र सीबीएसई ने उन्हें भेजा है।

To read full article - https://goo.gl/ZhNpmB