किसानों की कर्जमाफी का खर्च राज्य सरकारों को ही उठाना पड़ेगा: केंद्र सरकार

  |   समाचार

पिछले साल १८ नवंबर को केंद्र सरकार ने राज्यसभा में जो लिखित जानकारी दी है उसके मुताबिक़ देश के किसानों पर अलग अलग बैंकों का लगभग १२ लाख ६० हज़ार करोड़ रूपया बक़ाया है.

केवल उत्तर प्रदेश में वित्तीय वर्ष २०१६-१७ के दिसंबर तक ६०१७९ करोड़ रूपये किसानों को कर्ज़ के तौर पर बांटे जा चुके हैं २०११ की जनगणना के मुताबिक़ देश में क़रीब ११ करोड़ ९० लाख खेती करने वाले लोग हैं.

हालांकि मोदी सरकार बार-बार ये बात कह रही है कि इन कर्ज़ माफ़ी में केंद्र की कोई भूमिका नहीं होगी और इसका भार भी उन्हीं राज्यों को उठाना पड़ेगा जो ये फ़ैसला करेंगे.

To read full article - https://goo.gl/FJCJgC

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬