अवमानना केस: सुप्रीम कोर्ट के सामने पेश हुए कलकत्ता हाई कोर्ट के जस्टिस सी एस कर्नन

  |   समाचार

अवमानना की कार्रवाई शुरू करने के बाद जस्टिस कर्नन से न्यायिक और प्रशासनिक काम वापस लेने वाली बेंच ने कहा, "क्या आप चिट्ठी में लगाए गए आरोपों को वापस लेना चाहते हैं?

बेंच ने ये भी कहा कि अगर वो खुद को मानसिक या शारीरिक रूप से मामले के लिए सक्षम नहीं पा रहे हैं तो वो इसके लिए आवेदन कर सकते हैं.

हालांकि, बेंच के उठने के बाद भी जस्टिस कर्नन ये कहते हुए सुने गए कि उन्हें जेल भेज दिया जाए लेकिन काम करने से न रोका जाए.

To read full article - https://goo.gl/unEjUa

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬