🏏मलिंगा पर लगाया 👎प्रतिबंध

  |   क्रिकेट

क्रिकेट मैदान पर अपनी यॉर्कर बॉल के लिए मशहूर श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा को देश के खेल मंत्री दयासिरी जयशेखरा के खिलाफ टिप्पणी करना महंगा पड़ गया है।

मामले में श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड (एसएलसी) की ओर से गठित की गए तीन सदस्यीय पैनल ने उनकी टिप्पणी को खेल मंत्री का अपमान मानते हुए एक साल का प्रतिबंध तथा अगले वनडे की मैच फीस की पचास प्रतिशत राशि का जुर्माना लगाया है।

हालांकि यह प्रतिबंध छह माह के लिए निलम्बित रहेगा। इस दौरान मलिंगा फिर से कोई टिप्पणी करते हैं तो इसे लागू कर दिया जाएगा। इस प्रतिबंध का उनके जिम्बाब्वे के खिलाफ खेली जानी वाली सीरीज पर भी असर नहीं पड़ेगा। पहले दो वनडे के लिए उन्हें टीम में शामिल किया गया है।

गौरतलब है कि मलिंगा ने चैम्पीयन ट्रॉफी में टीम के खराब पदर्शन कर खेल मंत्री द्वारा दिए गए बयान के बाद कहा था कि बैठकर कुर्सिया गर्म करने वाले लोगों की आलोचनाओं से कोई फर्क नहीं पड़ता है। 'एक बंदर को तोते के घोंसले के बारे में कुछ भी पता नहीं होता है।

इसे अपमान मानते हुए खेल मंत्री जयासेकारा ने आपत्ति जताई थी। जिस पर बोर्ड ने एसएलसी सचिव मोहन डिसिल्वा और सीईओ एश्ले डिसिल्वा की समिति बनाकर जांच के आदेश दिए थे। इस समिति ने जांच में उन्हें दोषी मानकर सजा सुनाई है।

📲 Get क्रिकेट on Whatsapp 💬