तिहरा शतक👀 लगाने के बाद पिता ने खरीदने दी सपनों की 🚘कार

  |   क्रिकेट

भारतीय बल्लेबाज करुण नायर के पिता की बदौलत ही उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में तिहरा शतक लगाया था। इसका कारण यह था कि वह अपने सपनों की कार फोर्ड मस्टैंग खरीदना चाहते थे और उनके पिता ने शतक लगाए बिना कार नहीं खरीदने की चेतावनी दी थी। इसके बाद उन्होंने गत वर्ष इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में नाबाद 303 रन की पारी खेली और फिर अपने कार के सपने को पूरा किया।

एक अखबार को दिए गए साक्षात्कार में उन्होंने बताया कि वह लम्बे से फोर्ड मस्टैंग खरीदना चाहते थे, लेकिन उनके पिता ने कई शर्ते लगा दी थी। पहले उन्होंने देश के लिए खेलने को कहा। टीम में शामिल होने के बाद उन्होंने टीम जगह पक्की करने तथा उसके बाद शतक लगाने की शर्त रख दी।

इसके बाद उन्होंने जब चेन्नई में तिहरा शतक लगाया तो उनके पिता के पास कोई शर्त नहीं बची और फिर उन्होंने अपने सपनों की कार खरीदी। नायर ने भारत के लिए 6 टेस्ट मैच खेले हैं, लेकिन अगर तिहरे शतक को छोड़ दे तो वो कुछ खास नहीं कर पाए हैं। अब वह इंडिया 'ए' के कप्तान हैं जो दक्षिण अफ्रीका में चार दिवसीय मैच खेलने जा रही है।

📲 Get क्रिकेट on Whatsapp 💬