आत्महत्या😱 से पहले महिलाओं👩‍❤️‍👩 ने मनाया मौत का👀 जश्न

  |   समाचार

आधुनिकता की भागदौड़ भरी जिंदगी में छोटी-छोटी परेशानी व तनावों से दुखी होकर लोगों का आत्महत्या करना आम होता जा रहा है। कोई फंदे से झूलकर तो कोई ट्रेन के आगे कूदकर तो कोई जहर पीकर मौत को गले लगा लेता है। ऐसा ही एक दोहरी आत्महत्या का मामले सामने आया है इंदौर के विजय नगर थाना क्षेत्र में, लेकिन इस आत्महत्या की हकीकत आपको चौंकाकर रख देगी।

दो सहेलियों ने जहर पीकर आत्महत्या तो की, लेकिन उससे पहले उसका जमकर जश्न मनाया। उन्होंने पहले केक काटा और उसके बार चाय बनाकर उसमें जहर मिला लिया। इसके बाद दोनों ने जहर भरी चाय की प्याली के साथ सेल्फी ली और बाद में उसे पीकर दुनिया को अलविदा कह दिया।

किसी परिचित के उनके घर पहुंचने पर घटना का पता चला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में रखवा दिया। पुलिस ने मौके से सुसाइड नोट भी बरामद किया। जिसमें दोनों ने जिंदगी से परेशानी होकर यह कदम उठाने की बात कही है।

पुलिस ने बताया कि मृतका धार निवासी रचना चौधरी व बड़वानी निवासी तन्वी वास्कले है। दोनों गुरुनगर स्थित एक मकान में किराए से रहती थी। रचना एक कम्पनी के कॉल सेंटर में तो तन्वी कैटरिंग का काम करती थी। रचना शादीशुदा थी और उसका एक बेटा भी था, लेकिन वह पति से परेशान होकर अलग रह रही थी।

रचना के साथ काम करने वाले एक दोस्त ने उसे कई बार फोन लगाया, लेकिन उन्होंने उठाया नहीं। इसके बाद वह मंगलवार को उनके कमरे पर पहुंचा तो वह अंदर से बंद मिला। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो दोनों की शव पड़े थे तथा पास में सुसाइड नोट रखा था। पुलिस ने शवों को मार्चरी में रखवा दिया। पुलिस ने बताया कि सुसाइड नोट के आधार पर वारदात 27 अगस्त की देर रात या 28 की सुबह की है।

सुसाइड नोट में रचना ने लिखा है कि वह अपनी जिंदगी से परेशान है और आत्महत्या के लिए खुद ही जिम्मेदार है। वह अपने पति से नफरत करती है तथा मरने के बाद उसके पति को शव के हाथ तक नहीं लगाने दिया जाएगा। उसका अंतिम संस्कार सुहागिन की तरह करना है तथा बेटे को माता-पिता को सौंपने की बात लिखी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/qKsssgAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬