👉अब यूपी में अध्यापक बनना 😲हुआ टेढ़ी खीर

  |   समाचार

यदि आप उत्तर-प्रदेश में अध्यापक बनने की तैयारी कर रहे हैं तो आपके लिए बुरी खबर हैं। अब आपको अध्यापक बनने के लिए टेट उत्तीर्ण करने के बाद लिखित परीक्षा भी देनी होगी। इसमें उत्तीर्ण होने ही आप अध्यापक बन सकेंगे। उत्तर प्रदेश कैबिनेट की मंगलवार को हुई बैठक में इसका निर्णय किया गया है।

प्राथमिक स्कूलों में सहायक अध्यापक बनने के लिए अब टीईटी के बाद लिखित परीक्षा भी अनिवार्य कर दी गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि अब टीईटी पास अभ्यर्थियों की सीधी भर्ती नहीं की जाएगी। अध्यापक बनने के लिए अब लिखित परीक्षा आयोजित की जाएगी। वरीयता सूची बनाते समय लिखित परीक्षा के अंक भी जोड़े जाएंगे।

बैठक के बाद प्रवक्ता और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि योगी सरकार प्राथमिक स्कूलों में बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि लिखित परीक्षा टीईटी क्वालीफाई करने के बाद देनी होगी। शिक्षक भर्ती की मेरिट में लिखित परीक्षा के भी अंक जोड़े जाएंगे।

शर्मा ने कहा कि अब प्रदेश में लिखित परीक्षा के माध्यम से बेसिक शिक्षकों की भर्ती होगी। लिखित के लिए 60 और शैक्षिक योग्यता के आधार पर 40 नंबर दिए जाएंगे। लिखित परीक्षा में सिर्फ टीईटी पास अभ्यर्थी ही बैठ सकेंगे।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/GaD_VAAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬