🤜गुरमीत ने दी सीबीआई 🏬कोर्ट के फैसले को 👊चुनौती

  |   समाचार

साध्वियों से दुष्कर्म के मामले में सीबीआई कोर्ट की ओर से सुनाई गई 20 साल की सजा भुगत रहे गुरमीत राम रहीम ने कोर्ट के फैसले को चुनौती दी है। गुरमीत के वकील ने फैसले के खिलाफ सोमवार को पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। पंचकूला की विशेष सीबीआई अदालत ने राम रहीम को 28 अगस्त को 20 साल की कैद की सजा सुनाई थी।

बचाव पक्ष के वकील विशाल गर्ग नरवाना ने बताया कि पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में अपील दायर की गई है। कई आधारों पर सीबीआई कोर्ट के फैसले को चुनौती दी गई है। इसमें प्रमुख यह है कि घटना के बाद सीबीआई की तरफ से महिलाओं के बयान दर्ज करने में छह साल की देरी की गई।

उन्होंने कहा कि सीबीआई ने दावा किया है कि दोनों महिला अनुयायियों का 1999 में यौन उत्पीडऩ किया गया और एजेंसी ने 2005 में बयान दर्ज किया। नरवाना ने आरोप लगाया कि सीबीआई ने पीडि़ता के बयान का कुछ हिस्सा छिपा भी लिया।

सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने 25 अगस्त को राम रहीम को इस मामले में दोषी ठहराया था जिसके बाद पंचकूला और सिरसा जिलों में हिंसा और आगजनी हुई थी। इस हिंसा में 41 लोगों की मौत हो गई थी तथा सैकड़ों लोग घायल हो गए थे। राम रहीम इस समय रोहतक की सुनारिया जेल में है।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/faPWMgAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬