उबर से🤝 समझौते को तैयार हुई रेप पीड़ित👩‍💼 भारतीय महिला

  |   समाचार

टैक्सी सेवाएं देने वाली कंपनी उबर टेक्नोलॉजीज़ और रेप पीड़ित एक भारतीय महिला अमेरिका की अदालत में चल रहे मुकदमे को आपस में सुलझाने पर सहमत हो गए हैं।
कंपनी के एक चालक ने महिला का बलात्कार किया था और उसके बाद उबर के शीर्ष कार्यकारियों के खिलाफ महिला ने अनुचित तरीके से उसका चिकित्सकीय रिपोर्ट हासिल करने को लेकर मुकदमा दायर किया था।

इस मामले में संपर्क किए जाने पर उबर ने भी इस बात को माना। उसने कहा कि सभी पक्षों के बीच समझौते की सहमति बन गई है और जनवरी में यह मामला खत्म हो जाएगा। हालांकि समझौते की शर्तों का खुलासा नहीं किया गया है। बता दें कि महिला का उबर के एक चालक ने 2014 में दिल्ली में बलात्कार किया था। महिला ने इस बाबत मामला दायर किया था पर बाद में स्वेच्छा से उसने इसे वापस ले लिया था।

इस साल जून में महिला ने कंपनी और उसके निष्काषित मुख्य कार्यकारी अधिकारी ट्रैविस कलानिक के खिलाफ चिकित्सकीय रिकॉर्ड अनुचित तरीके से हासिल करने और गलत कहानियां बनाने को लेकर मुकदमा दायर किया था।

गौरतलब है कि उबर इस साल की शुरुआत में कुप्रबंधन तथा कार्यस्थल पर शोषण समेत कई मुद्दों में उलझी थी। उसके एक पूर्व कर्मी ने ब्लॉग लिखकर कंपनी में यौन शोषण एवं यौनिक भेदभाव का आरोप लगाया था।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/IlPkRwAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬