पति की🔪 हत्या, प्रेमी पर फेंका 😱तेजाब, आधार कार्ड से खुला पत्नी का👎 झूठ

  |   समाचार

हैदराबाद में प्रेमी के प्यार में अंधी एक पत्नी द्वारा दिमाग को सन्न कर देने वाले वारदात को अंजाम देने वाली घटना सामने आई है। पत्नी ने पूरी साजिश एक तेलुगू फिल्म 'येवाडू' से प्रेरित होकर रची और उसे अंजाम भी दिया। लेकिन पत्नी की साजिश का पति के आधार कार्ड के जरिए पर्दाफाश हो गया।

दरअसल पत्नी ने फिल्म की कहानी को असल जिंदगी में उतारने का फैसला किया। तेलंगाना के नागरकुर्नूल जिले की रहने वाली विवाहित महिला स्वाती रेड्डी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पहले अपने पति सुधाकर रेड्डी की हत्या कर दी। इसके बाद दोनों ने जंगल में ले जाकर पति का शव जला दिया।

इसके बाद साजिश के तहत स्वाती ने अपने प्रेमी राजेश के चेहरे पर तेजाब डालकर उसका चेहरा इतना बिगाड़ दिया कि उसकी पहचान ही न हो सके। प्रेमी का चेहरा तेजाब से बिगाड़ने के बाद महिला ने पति के घरवालों को सूचना दी कि उसके पति के साथ कुछ दुर्घटना घटी है।

सूचना पाकर आए घरवालों ने स्वाती के साथ सुधाकर पर बने प्रेमी राजेश को अस्पताल पहुंचाया, ताकि उसकी प्लासिट्क सर्जरी करवाई जा सके। सर्जरी के बाद राजेश का चेहरा सुधाकर जैसा तो हो गया, लेकिन परिवार वालों को उसके व्यवहार के चलते उस पर शक हो गया। घरवालों ने पुलिस की इसकी सूचना दी।

पुलिस ने सुधाकर के आधार कार्ड से प्लास्टिक सर्जरी से सुधाकर बने राजेश की उंगलियों के निशान मैच कराए। लेकिन राजेश की उंगलियों के निशान सुधार के आधार कार्ड में दर्ज निशान से मैच नहीं किए और स्वाती और राजेश की साजिश का पर्दाफाश हो गया।

पुलिस जांच में पता चला कि स्वाती और राजेश ने मिलकर 26 नवंबर को सुधाकर की हत्या की और यह पूरी साजिश रची। स्वाती और राजेश की साजिश से सुधाकर के परिवार वाले पूरी तरह बेखबर थे और अपने बेटे के जलने की खबर पाकर आनन-फानन में राजेश को अपना बेटा समझ हैदराबाद के अस्पताल ले गए। हत्या और आपराधिक षड्यंत्र के आरोप में स्वाती और राजेश को गिरफ्तार कर लिया गया है और उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/FJlmHgAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬