👉...जब ओलंपिक मशाल लेकर दौड़ा😲 रोबोट

हम आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के युग में हैं। रोबोट्स, जॉब्स से लेकर कल्चरल इवेंट और यहां तक कि अंतिम संस्कार भी कर रहे हैं। हाल में जब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप हैदराबाद आईं थी तो मंच पर उनका स्वागत 'मित्र' नाम के एक 'मेड इन इंडिया' रोबोट ने किया था। रोबोट ने मंच से बटन दबाकर कार्यक्रम का उद्घाटन किया था। अब इसी तरह दक्षिण कोरिया में होने वाले ओलंपिक के लिए एक रोबोट मशाल लेकर दौड़ा है।

दक्षिण कोरिया के प्योंगचांग में फरवरी 2018 से विंटर ओलंपिक शुरू हो रहे हैं। इससे पहले, यहां के जेडॉग में हुई ओलंपिक की परंपरागत रैली में एक रोबोट मशाल लेकर दौड़ा। उसने इस मशाल को फिर बेहद सुरक्षित तरीके से एक वॉलिंटियर के हाथ में थमाया।

ओलंपिक मशाल का जेडॉग में भव्य स्वागत हुआ। इस दौरान एक रोबोट बाकायदा वॉलिंटियर को गाड़ी में बैठाकर लाया। यह रोबोट खुद ही गाड़ी चला रहा था। रोबोट ने मशाल के साथ चल रहे वॉलिंटियर को रैली के उद्घाटन स्थल तक पहुंचाया।

इसके बाद रोबोट ने अपने हाथ में लगे एक कटर की सहायता से दीवार काटी और विधिवत ओलंपिक की मशाल जलाई। और फिर दूसरा रोबोट मशाल लेकर दौड़ा।ओलंपिक की मशाल लेकर दौड़ने वाले रोबोट का नाम 'हूबो' है। इसे दक्षिण कोरिया की एडवांस इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने बनाया है।

हालांकि, यह पहला रोबोट नहीं है, जिसने ओलंपिक की मशाल को कैरी किया है। इससे पहले भी दक्षिण कोरिया में संपन्न हुई एक रैली में रोबोट ने मशाल को कैरी किया था। इस रैली में करीब 7,500 वॉलिंटियर शामिल थे।

बताया जा रहा है कि प्योंगचांग में जब 2018 में ऑलंपिक प्रतियोगिता शुरू होगी तो करीब 85 रोबोट्स को वॉलिंटियर के तौर पर तैनात किया जाएगा। बता दें कि प्योंगचांग में विंटर ओलंपिक नौ फरवरी 2018 से शुरू होकर 25 फरवरी को आयोजित होगा।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/uDlx-QAA

📲 Get Tech and Gadget News in Hindi on Whatsapp 💬