टीम🏏 की योजना के अनुसार खेलना पसंद 👎नहीं था सहवाग को

  |   क्रिकेट

क्रिकेट मैदान पर बड़े-बड़े गेंदबाजों के पसीने छुड़ाने वाले ओपनर बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग का बल्लेबाजी करने का अलग ही मिजाज था। वो अपने ही हिसाब से बल्लेबाजी करना पसंद करते थे।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस विस्फोटक बल्लेबाज को टीम मीटिंग से सख्त नफरत थी। भारतीय टीम के प्रमुख ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने बताया कि सहवाग हमेशा टीम की योजनाओं पर बात करने से दूर रहते थे।

स्टैंड अप कॉमेडियन और क्रिकेट ह्युमरिस्ट विक्रम साथ्याए के नए शो में बातचीत के दौरान अश्विन ने वर्ष 2011 विश्व कप का एक मजेदार किस्सा बताया और सहवाग की टीम मीटिंग के प्रति नफरत का खुलासा किया।

अश्विन ने कहा कि सहवाग टीम योजना के हिसाब से खेलना पसंद नहीं करते थे। 2011 विश्व कप के दौरान इंग्लैंड के खिलाफ मैच से पहले कोच गैरी कस्र्टन ने सुबह 10 बजे मीटिंग रखी थी। इसमें सहवाग ने कोच से विशेष बात करने को कहा तो सभी ने कुछ उपयोगी टिप्स दिए जाने के बारे में सोचा, लेकिन सहवाग ने टीम को मिलने वाले पास पर बात शुरू कर दी। वीरू ने पास नहीं मिलने पर मैच नहीं खेलने की धमकी भी थी।

📲 Get LIVE क्रिकेट स्कोर on Whatsapp 💬