👉इलाहाबाद के बाद अब शिमला का भी 😲बदलेगा नाम? हिमाचल के मंत्री का 🗣अहम बयान

  |   समाचार / Himachal-Pradeshnews / Shimlanews

देश में एक बार फिर शहरों के नाम बदलने को लेकर सियासत शुरू हो गई है। इसका असर अब पहाड़ों की रानी शिमला में भी देखने को मिल रहा है। क्या शिमला का नाम बदलकर श्यामला कर देना चाहिए? इस सवाल पर हिमाचल प्रदेश सरकार के स्वास्थ्य मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने अहम बयान दिया है।

दरअसल, शिमला में गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य मंत्री ने मीडिया के सवाल पर कहा कि यह चर्चा का विषय है, लेकिन अगर श्यामला से शहर का नाम शिमला हो सकता है तो फिर शिमला से श्यामला क्यों नहीं? हालांकि, ये चर्चा का विषय है। इसके लिए कोई हार्ड एंड फास्ट रूल नहीं है।

दरअसल, यूपी की योगी सरकार ने हाल ही में इलाहाबाद का नाम प्रयागराज कर दिया है। इसके बाद शहर का नाम बदलने को लेकर सियासत हो रही है। हिमाचल की भाजपा सरकार में स्वास्थ्य मंत्री विपिन परमार ने कहा कि देश में लोग ऐसे मुद्दों को लेकर आगे आ रहे हैं।

बता दें कि शिमला का पुराना नाम श्यामला था। शिमला के कालीबाड़ी मंदिर को पहले श्यामला माता के नाम से जाना जाता था। इसी पर इस शहर का नाम श्यामला हुआ करता था। बाद में मंदिर का नाम कालीबाड़ी और शहर का नाम शिमला कर दिया गया।

दरअसल,जब अंग्रेज पहाड़ों की रानी शिमला आए तो उन्होंने इसका नाम ‘सिमला’ कर दिया। जो बाद में शिमला हो गया। अंग्रेजों ने साल 1864 में इस शहर को बसाया था। इसे लेकर कांग्रेस कार्यकाल में विहिप ने सरकार को शिमला का नाम बदलने को लेकर एक मैमोरेंडम भी सौंपा था।

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/Y87qJQAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬