[budaun] - शस्त्र लाइसेंस पाने को कलेक्ट्रेट में उमड़े आवेदक

  |   Budaunnews

शस्त्र लाइसेंस पाने के लिए

कलक्ट्रेट में उमड़े आवेदक

अपनी बारी आने के इंतजार में घंटों खड़े रहे, धक्का-मुक्की

बदायूं। कोर्ट के आदेश पर प्रदेश की भाजपा सरकार में पहली बार खुले शस्त्र लाइसेंस के लिए आवेदक हर हथकंडा अपनाने में जुट गए हैं। हालांकि अभी आवेदन की प्रक्रिया ही शुरू हुई लेकिन आवेदन पत्र जमा करने से पहले ही उन्होंने अपने राजनीतिक पैरोकारों की परिक्रमा भी शुरू कर दी है। शस्त्र के लिए आवेदकों की बेचैनी का नजारा बुधवार को कलक्ट्रेट में देखने को भी मिल गया।

नए शस्त्र लाइसेंस बनवाने पर तत्कालीन सपा सरकार में रोक लग गई थी। विरासत के केस में हालांकि दावेदारों को राहत जरूर थी लेकिन पिछले दिनों रोक हटा दी गई, अब शस्त्र पाने के लिए काफी समय से बेचैन दावेदारों का जोश सामने आ रहा है। बुधवार सुबह से ही कलक्ट्रेट में कई आवेदक अपने फार्म हाथ में लिए घूमते नजर आए। कलक्ट्रेट की विंडो पर आवेदकों की लाइन ने कम होने का नाम नहीं लिया। आवेदकों का कहना है कि काफी समय के बाद जो मौका मिला है, वह उसे किसी भी सूरत में गंवाना नहीं चाहते। जानकारों की मानें तो आवेदन से पहले ही आवेदकों ने अपनी राजनीतिक बिसात भी मजबूत बनानी शुरू कर दी है। आवेदक कोई कसर भी नहीं छोड़ना चाहते। विधायकों समेत भाजपा के नेताओं के आसपास भी आवेदक पहुंचने लगे हैं। सूत्र बताते हैं कि अपने चहेतों के लिए पैरोकार राजनीतिज्ञों ने अफसरों को कॉल करने भी शुरू कर दी है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/4ov-3wAA

📲 Get Budaun News on Whatsapp 💬