[haryana] - चक्का जाम: प्रशासन ने लिया एम्बुलेंस चालकों का सहारा, डीपू से बाहर भी नहीं निकाल पाए बसें

  |   Haryananews

यमुनानगर में रोडवेज कर्मचारियों के चक्के जाम को देखते हुए प्रशासन ने बसों को चलाने के लिए एम्बुलेंस चालकों का सहारा लिया. इस दौरान बसों के आप्रशिक्षित चालकों को बसों के स्टेयरिंग थमा दिए गए. बसों में बैठाएं चालक बसों को रोडवेज डीपू से बाहर भी नहीं निकाल पाए. एंबुलेंस चालकों का कहना है कि वो प्रशासन के आदेश मानने को मजबूर हैं.

बता दें कि कर्मचारी यूनियनों के विरोध के बावजूद परिवहन विभाग ने किलोमीटर स्कीम के तहत निजी बसों को कांट्रैक्ट पर चलाने के लिए समझौता कर लिया है. मुख्यमंत्री भी साफ कर चुके हैं कि परिवहन सेवाओं को सुधारने के लिए सरकार अपने फैसले से पीछे हटने वाली नहीं. रोडवेज कर्मचारियों की बाकी सभी 24 मांगें मान ली गई हैं. वहीं तालमेल कमेटी का कहना है कि सरकार चाहे तो दूसरी मांगों को फिलहाल न माने, लेकिन रोडवेज में निजी बसों को शामिल करने का फैसला वापस लें....

फोटो - http://v.duta.us/5LPypAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/fPQofQAA

📲 Get haryananews on Whatsapp 💬