[jharkhand] - पूरे नवरात्र असुरों के परिवारों में रहता है शोक

  |   Jharkhandnews

गुमला जिला के विभिन्न इलाकों में रहने वाले असुर परिवार के लोगों में पूरे नवरात्र के दौरान शोक का माहौल बना रहता है. खासकर महानवमी के दिन जब माँ दुर्गा ने पापी महिषासुर की हत्या कर मानव जाति को पापियों से मुक्ति दिलायी थी इस दिन असुर परिवार के घर में खाना तक नहीं बनता है. इस परिवार का माहौल ठीक उसी तरह देखने को मिलता है जैसे कि इस परिवार में किसी की मौत हो गई हो. इस परम्परा को असुर समाज की युवा पीढ़ी भी पूरी ईमानदारी से निभा रही है.

लगातार बदलते समय में समाज की विभिन्न परम्पराओं पर आधुनिकता का प्रभाव देखने को मिलता है कई ऐसी परम्परा है जिसे गलत मानकर उसे समाज के लोगों ने त्याग भी दिया लेकिन खासकर महानवमी के दिन जब माँ दुर्गा ने पापी महिषासुर की हत्या कर मानवजाति को इनके आतंक से मुक्ति दी थी. उस दिन को असुर परिवार पुरी तरह से शोक के दिन के रुप में मनाते हैं. असुर परिवार के लोगों की मानें तो जब उसने देवता महिषासुर को माँ दुर्गा ने मार डाला तो उनके परिवार में खुशी कैसे बन सकती है. उनका मानना है कि उनके पूर्वज महिषासुर की पूजा करते थे जो उनकी रक्षा करते थे....

फोटो - http://v.duta.us/RGRudQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/8am3agAA

📲 Get Jharkhand News on Whatsapp 💬