[kawardha] - वेद-मंत्रों के उच्चारण पर श्रद्धालुओं ने किए पूर्णाहूति

  |   Kawardhanews

कवर्धा. शारदीय नवरात्र के अष्टमी पर पूरे अंचल में श्रद्धा-भक्ति के साथ देवी आराधना की गई। सभी देवी मंदिरों व पूजा पंडालों में अष्टमी पर वेदमंत्रों की ध्वनियों के बीच हवन कुंड में आहुति डाली गई।

दुर्गा अष्टमी पर नगर भर में त्योहार सा माहौल रहा। सुबह से ही सभी मंदिरों में हवन के लिए तैयारी होती रही। अलग-अलग मंदिरों में अलग-अलग समय पर हवन हुए, जहां श्रद्धालुओं ने बड़ी संख्या में पहुंचकर आहुति दी। नगर के सिद्धपीठ महामाया मंदिर में लगभग १२ बजे के बाद हवन शुरू हुआ। श्रद्धालुओं की भीड़ इतनी अधिक था कि हवन कुण्ड में आहुति न देकर जहां जगह मिले। वहीं बैठकर आहुति देते रहे। ऐसे श्रद्धालुओं को जहां पर बैठे थे वहीं पर ही सांकला प्रदान किया गया। पूर्णाहूति के बाद श्रद्धालुओं के सांकला को हवन कुण्ड में डाला गया। वहीं मां विंध्यवासिनी मंदिर में दोपहर ११ बजे से हवन शुरू हुआ। हवन के बाद कन्याओं को भोज कराया गया। इस दिन माता का विशेष शृंगार की थी।...

फोटो - http://v.duta.us/wSShoQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/SRO5SgAA

📲 Get Kawardhanews on Whatsapp 💬