[kawardha] - CG Election 2018: CM के गृहजिले का हाल किसे के कहते है मुलभूत सुविधा, नहीं जानते

  |   Kawardhanews

दीपक ठाकुर/कवर्धा. मैकल पर्वत से घिरा पहाड़ों और मनोरम दृश्यों के बीच बसे कांदावानी पंचायत के आधा दर्जन गांव में आज तक एक भी नेता व मंत्री नहीं पहुंचे हैं। मुलभूत सुविधा किसे कहते हैं, यहां के ग्रामीण जानते भी नहीं। क्योंकि इन गांवों में न तो बिजली पहुंची है और न ही पक्की सडक़ है। कबीरधाम जिला मुख्यालय से 55 किमी दूर कुई-कुकदूर पहुंचने पर लोगों के चेहरे पर चुनाव को लेकर मायूसी साफ दिखाई दे रही थी, क्योंकि यहां विकास के नाम पर केवल लोगों को ठगा गया है।

ग्राम कुई में रामनाथ सिंह, बर्दी कुमार ने बताया कि वनांचल का मुख्यालय कुई-कुकदूर को ही माना जाता है, लेकिन यहां सभी दलों से विकास के नाम पर सिर्फ सपने दिखाएं हैं। कभी सडक़ के नाम पर तो कभी पानी के नाम पर सिर्फ वादा ही किया है। इसके बाद हमारा कारवां 28 किलोमीटर दूर वनांचल ग्राम पंचायत कांदावानी के आश्रित ग्राम ढेपरापानी, बांसाटोला, कान्हाखैरा पहुंता। यहां पक्की सडक़ नहीं होने के कारण पैडगरी से तीन किलोमीटर पैदल चलकर गांव तक पहुंचे। यहां के रतीराम बैगा, समारु ङ्क्षसह बैगा, घनीराम बैगा से मुलाकात होती है। मूलभूत सुविधाओं के संबंध में पूछने पर वे आश्चर्य होकर पूछते हैं यह क्या होती है। इससे तो हमने आज तक नहीं देखा है।...

फोटो - http://v.duta.us/OQVHvwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tGNaawAA

📲 Get Kawardhanews on Whatsapp 💬