[muzaffarpur] - जांच के बाद विजिलेंस ने सौंपी रिपोर्ट, ऑटो टिपर घोटाले की जांच की आंच मेयर तक पहुंची

  |   Muzaffarpurnews

मुजफ्फरपुर : नगर निगम में ऑटो टिपर खरीद मामले में हुए घोटाला की जांच रिपोर्ट विजिलेंस ने विभागीय सचिव को सौंप दी है. रिपोर्ट में तत्कालीन निगम प्रशासन व प्रक्रिया में शामिल इंजीनियर व कर्मियों पर ऊंगली उठायी गयी है. इसमें तत्कालीन दो नगर आयुक्त, एक कार्यपालक अभियंता, दो सहायक अभियंता, तीन कनीय अभियंता के अलावा एक कर्मचारी भी दोषी पाये गये हैं. मेयर सुरेश कुमार भी इसके लपेटे में हैं.

विजिलेंस सूत्रों के मुताबिक जांच रिपोर्ट में मेयर पर आपूर्तिकर्ता को भुगतान के लिए अनुमोदन का आरोप है. मेयर के अनुमोदित करने के बाद ही 50 में से 24 ऑटो टिपर की आपूर्ति होने पर नगर आयुक्त ने डेढ़ करोड़ से अधिक रुपये का चेक काटा था. रिपोर्ट में चेक काटने की प्रक्रिया को आनन-फानन में पूर्ण करने की बात कही गयी है. बताया जाता है कि जब आइएएस नगर आयुक्त संजय दूबे की पोस्टिंग हुई तो आनन-फानन में ऑटो टिपर के भुगतान के लिए चेक काटा गया था....

फोटो - http://v.duta.us/t1vKVAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/eqR8nAAA

📲 Get Muzaffarpur News on Whatsapp 💬