[nagaur] - संगठित समाज से राष्ट्र की उन्नति सम्भव

  |   Nagaurnews

खींवसर। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के स्थापना दिवस विजयादशमी उत्सव पर बुधवार को स्वयं सेवकों ने कस्बे के मुख्य मार्गों से होकर पथ संचलन किया। स्वयं सेवकों ने घोष के साथ कदम से कदम मिलाकर अनुशासन का परिचय दिया। कस्बे में जगह-जगह ग्रामीणों द्वारा स्वयं सेवकों पर पुष्प वर्षा की गई। संचलन में भारत माता की जय, वन्देमातरम आदि जयघोष से कस्बा गूंज उठा। समापन पर संघ का स्थापना दिवस विजयादशमी उत्सव मनाया गया। संघ के खण्ड शारीरिक प्रमुख दिलीप शर्मा ने बताया कि कार्यक्रम में अतिथियों ने शस्त्र पूजन किया। मुख्य वक्ता हेमन्त जोशी ने राष्ट्रीय एकता व अखण्डता पर जोर देते हुए कहा कि वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए संगठन की महती आवश्यकता है। समग्र समाज को संघमय समाज बनाना है। ुउन्होंने कहा कि हमें जातिगत भेदभाव भुलाकर समरस समाज की ओर अग्रसर होना है। संगठित समाज से ही राष्ट्र उन्नति की ओर अग्रसर होता है। भारत माता को पुन: विश्व गुरू के पद पर आसीन करना है। विजयादशमी उत्सव में संघ के सह जिला कार्यवाह भवानी, नन्दकिशोर करवा, डॉ. धीरेन्द्र शर्मा, रोशन उपाध्याय, बालकिशन, जगदीश, गोविन्द, ओम तंवर, राकेश भाटी सहित सैंकड़ों स्वयंसेवक मौजूद थे।...

फोटो - http://v.duta.us/SkfgkQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/QUEOCAAA

📲 Get Nagaur News on Whatsapp 💬