[sagar] - पैरामिलिट्री बल नहीं मिला तो उत्तरप्रदेश के होमगार्ड इस तरह बनेंगे सहारा

  |   Sagarnews

सागर. निर्वाचन कार्य में सुरक्षा बल की उपलब्धता न होने पर यूपी होमगार्ड के जवानों को सागर पुलिस के सहयोग का दायित्व सौंपा जा सकता है।

जिले के 2097 पोलिंग स्टेशन पर निर्वाचन प्रक्रिया को निष्पक्ष व निर्बाध संपन्न कराने के लिए ८५०० पुलिस और सशस्त्र बल की जरूरत है जबकि जिला पुलिस के पास अभी केवल दो हजार पुलिसकर्मियों की उपलब्धता ही है। ६५०० पुलिस और पैरामिलिट्री बलों की कमी को पूरा करने के लिए डिमांड भेजी गई है। एक दिन पहले एसआरपीएफ के ८५ जवानों की कंपनी ने सागर में आमद दर्ज कराई है। जिले में यूपी की अंतरराज्यीय सीमा सहित सभी पोलिंग स्टेशनों की सुरक्षा के लिए अभी भी करीब २३ कंपनियों की जरूरत है। जिले में निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान सुरक्षा इंतजामों की व्यवस्था संभाल रहे एएसपी रामेश्वर ङ्क्षसह यादव के अनुसार सागर में पुलिस और एसएएफ जवानों के अलावा सोमवार को एसआरपीएफ की कंपनी भी आ गई है। जिले के पोलिंग स्टेशन और अंतरराज्यीय-निकटवर्ती जिलों की सीमाओं पर निगरानी के लिए २० से २३ सशस्त्र पुलिस और पैरामिलिट्री बल की जरूरत से निर्वाचन व सुरक्षा अधिकारियों को अवगत कराया गया है। उधर सूत्रों के अनुसार सुरक्षा बल की कंपनियों की उपलब्धता के आधार पर यूपी होमगार्ड की टुकडि़यां सागर भेजी जा सकती हैं। २०१३ में हुए निर्वाचन के दौरान भी झांसी मंडल से यूपी होमगार्ड की कुछ सशस्त्र टुकडि़यां सागर आई थीं। इस वर्ष भी बल की उपलब्धता को देखते हुए इसके इंतजाम किए जा रहे हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/WsBQHwAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/TNFykQAA

📲 Get Sagar News on Whatsapp 💬