[sagar] - सदर को छावनी की बंदिशों से मिले निजात तो खुलें विकास के नए द्वार

  |   Sagarnews

लोकतांत्रिक व्यवस्था पर जनप्रतिनिधियों को भी नहीं सीधे अधिकार

निकाय का दर्जा मिलने से अपनी जमीन के मालिक बनेंगे रहवासी

संजय शर्मा. सागर. नगर निगम सागर और मकरोनिया नगर पालिका की सीमाओं से सटी छावनी में विकास के मुद्दे भले ही बेशुमार हों, लेकिन सेना व रक्षा संपदा की बंदिशें सब पर भारी हैं। अरसे से सदरवासी निकाय का दर्जा मांग रहे हैं ताकि सुनियोजित विकास के भागीदार वे भी हो पाएं लेकिन छावनी का विकास फिर अंग्रेजों के जमाने के नियमों में उलझ गया है। सिविल एरिया, शौचालय, कृषि लीज का नवीनीकरण और अतिक्रमण के नाम पर छावनी की मतदाता सूची से बाहर किए जाने संबंधी ऐसे ज्वलंत मुद्दे हैं जो लोकतांत्रिक व्यवस्था व केंद्र-राज्य की योजनाओं को धता-बता रहे हैं। इससे रहवासी अब भी गुलामों जैसी स्थिति में हैं।...

फोटो - http://v.duta.us/ENT3ugAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/mBzgeQAA

📲 Get Sagar News on Whatsapp 💬