[udaipur] - video : यहां चिताभस्म से शृंगार कर कालभैरव ने किया सरोवर स्नान..

  |   Udaipurnews

गाैैैतम पटेल/ सराडा. नौ दिन शक्ति उपासना के साथ रुद्रअवतार भगवान कालभैरव अपने लावलश्कर व सैकडों की जनमेदिनी के साथ सरवर पहंंचे। मंगलवार रात्रिजागरण में डीजे की धार्मिक धुुनों पर पूूरी रात दादा के भक्तों ने जमकर थिरकने के आनन्द लिया । जागरण में हुई कालभैरव की चौकी में भाेपा रमेश पटेल ने लोगों को उनकी समस्याओं के निराकरण के उपाय बताते हुए अपने अपने ईष्ट पर पूर्ण विश्वास के साथ निश्छल भक्ति और का सन्देश दिया। बुधवार प्रात: सवा पांच बजे पूर्णाहूति के साथ महाआरती की गई । इसके पश्चात बाबा काल भैरव की भावपूर्ण पूजा -अर्चना कर सवा नौ बजे बाबा के भोपा रमेश पटेल काले रंग की लंगोट पहकर घूंघरु कमर में घूंघरु पहने हाथ में तलवार व सांकल लिये पूर्ण बाबा काल भैरव के रुप में सरवर जवारा विसर्जन के लिए निकले । डीजे की धार्मिक भक्ति धुुनों व ढोल पर काल भैरव का लवाजमा जिनमें मालिक दादा ,गोराजी,आशापुरा माता,जावरमाता,चौथ माता,दशामाता,गातोडजी, खांकदेव, भूमिया,छोटे-मोटे पूर्वज भी अपने अपने भोपो को चौकी के रुप में साथ चल रहे थे । महिलाओं के मंगलगीत गान के बीच विशाल जनमेदिनी देवी देवताओं के जयकारोंं के साथ पूूूरी शोभायात्रा काल भैरव मन्दिर से आशापुरा माता जी मन्दिर पहूुुची जहां धोक लगने व हनुमानजी मन्दिर ,राठोड बावजी व आमलीवाले भोमिया जी पहूंची जहां नमन कर श्रीफल भेंंट किया। डीजे की धुुन पर भक्तिगीतों पर नाचते थिरकते श्रद्धालुओं व देवी देवताओं की चौकी के साथ भोपोंं का नृत्य बड़़ा़ा अलौकिक दृश्य लग रहा था एेेसा प्रतीत हो रहा था मानो भगवान भूतनाथ शिवजी की बारात जा रही हो। सरवर के माग में काल भैरव ने चिता की भस्म का श्रंगार किया जिसमें नीचे बिछावन डालकर चौकी में भोपा जी बैठे जिन पर कपडे गांठ से चिताभस्म गिराई गई । भस्म श्रंगार के बाद कुछ देर भस्म में लाैैटने ने बाद सरवर यात्रा हरचन्द तालाब पहुुंची । काल भैर व की चौकी में उनके उपर गिरती चिता की भस्म ने मौजूद श्रद्धालुओं को खुद भगवान शिव के भस्म स्नान के अलौकिक दर्शन का अहसास करा दिया।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/TQAPowAA

📲 Get Udaipur News on Whatsapp 💬