👉ट्विटर युद्ध: पूर्व नौसेना अधिकारी 👮से भिड़ीं रक्षा मंत्रालय की 🙋प्रवक्ता, फिर मांगी माफी🙏

  |   समाचार

सियासी दलों के नेताओं द्वारा एक-दूसरे पर विवादित बयान देना एक आम बात है लेकिन बयान अगर भारतीय सेना के जवान के बारे में दिया गया हो और ऐसा करने वालीं रक्षा मंत्रालय की प्रवक्ता हों तो सवाल गहरा हो जाता है। द क्विंट के मुताबिक रक्षा मंत्रालय की प्रवक्ता ने ट्विटर पर भारतीय नौसेना के पूर्व चीफ एडमिरल अरुन प्रकाश पर अपमानजनक टिप्पणी की है। यह ट्वीट 26 अक्टूबर को उस वक्त किया गया जब रक्षा मंत्रालय, एडमिरल प्रकाश के ट्वीट का जवाब दे रहा था।

दरअसल एक यूजर ने ट्वीट किया था जिसमें एक कार पर सेना के झंडे को लेकर सवाल उठाए गए थे। इसी ट्वीट पर पूर्व चीफ एडमिरल ने लिखा था कि सेना कमांड के संकेतों का दुरुपयोग करने वाले इस व्यक्ति को प्रताड़ित करने की जरूरत है।

इसके बाद रक्षा मंत्रालय की प्रवक्ता स्वर्णश्री राव राजशेखर ने पूर्व चीफ एडमिरल को जवाब देते हुए कहा- जब आप सेना में अधिकारी थे तब आपके घर में जवानों का दुरुपयोग नहीं हुआ? और उन फौजी गाड़ियों का क्या जिन्हें आपके बच्चों को स्कूल छोड़ने और घर पहुंचाने के लिए प्रयोग किया गया? और सरकारी वाहन पर मैडम की शॉपिंग और पार्टी के खर्चे को कैसे भूल सकते हैं? इसका खर्च कौन देगा?

यहां देखें ट्वीट- http://v.duta.us/VdrAOAAA

हालांकि बाद में रक्षा मंत्रालय की प्रवक्ता ने इस ट्वीट को डिलीट कर दिया और सफाई देते हुए कहा, यह ट्वीट अनजाने में किया गया था और इसके लिए गहरा खेद है।' लेकिन माफी मांगने में देर हो चुकी थी क्योंकि ट्वीट के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए।

यहां पढ़ें पूरी खबर- http://v.duta.us/VjY1xwAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬