[rajasthan] - 14वीं विधानसभा: युवा विधायक सदन में नहीं कर पाए बेहतर प्रदर्शन, साधे रखी चुप्पी

  |   Rajasthannews

युवाओं की तरुणाई 14वीं विधानसभा में अंगड़ाई लेती नजर नहीं आई. बड़ी उम्मीदों से की साथ प्रदेश की जनता ने जिन बीजेपी व कांग्रेस के युवा चेहरों को विधानसभा में चुनकर भेजा था, वो जनता की अपेक्षाओं पर खरा नहीं उतर पाए. विधानसभा में आवाज नहीं उठा पाने के कारण पहले जहां आम जनता की अपेक्षाओं पर पानी फिरा था, वहीं अब इनमें से अधिकांश युवा विधायकों के टिकटों पर मंडरा रहे खतरे से उनके दुबारा टिकट लेने के मंसूबों पर पानी फिर सकता है.

सेवा का वायदा कर सदन में पहुंचे इन विधायकों में ना तो जनता के बीच महात्मा गांधी जैसी सेवा भावना दिखी और ना भगतसिंह जैसा विपरीत हालात में जूझने का जज्बा. चौदहवीं विधानसभा में आए अधिकांश युवा चेहरे टाइम पास विधायक साबित हुए. कामिनी जिंदल, सिद्धि कुमारी, बच्चू सिंह, विजय सिंह चौधरी, अमृता मेघवाल, सुरेश धाकड़ और कांग्रेस के युवा चेहरे अशोक चांदना. कमोबेश सभी के हालत एक जैसे ही रहे. मतदाताओं की आवाज को बुलंद करने की बजाय इन विधायकों ने ज्यादातर वक्त सदन में चुप्पी साधे रखी. अधिकांश समय इनमें से कई तो सदन की कार्यवाहियों से ही नदारद रहे. विधायी कार्यों में इनकी दिलचस्पी नहीं के बराबर दिखी....

फोटो - http://v.duta.us/VZIMlAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Q6PMtQAA

📲 Get rajasthannews on Whatsapp 💬