😳भाई की गला दबाकर हत्या, 🔪स्कूटी खड़ी करने को लेकर🛵 हुआ था विवाद

  |   समाचार

भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री और दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालस छात्रसंघ के पूर्व उपाध्यक्ष बंधू उपेन्द्र सिंह के छोटे भाई उद्यान निरीक्षक सत्येन्द्र सिंह उर्फ संजय सिंह की शनिवार की सुबह गला दबाकर हत्या कर दी गई। सत्येंद्र सिंह अपने भाई बंधू सिंह से मिलने मोहद्दीपुर के श्रीरामपुरम स्थित उनके किराए के कमरे पर गए थे। स्कूटी खड़ी करने के विवाद में बगल के एक दम्पति और उनके दो बेटों ने उनकी हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

देवरिया जिले के रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र स्थित हउली गांव निवासी सत्येन्द्र कुमार सिंह गोरखपुर उद्यान विभाग में प्रभारी निरीक्षक के पद पर तैनात थे। वे मंडलायुक्त कार्यालय के समीप स्थित ट्रांजिट हास्टल में परिवार के साथ रहते थे। उनके बड़े भाई भाजपा नेता बंधू उपेंद्रनाथ सिंह मोहद्दीपुर के श्रीरामपुरम कालोनी में किराए पर कमरा लेकर रहते हैं। बंधू सिंह लम्बे समय बाद शुक्रवार की देर रात कमरे पर लौटे थे। शनिवार की सुबह 9:30 बजे सत्येन्द्र सिंह स्कूटी पर पत्नी संगीता को बैठाकर बड़े भाई के कमरे पर पहुंचे। उन्होंने स्कूटी सड़क के किनारे मकान से सटाकर खड़ी कर दी और पत्नी के साथ भाई के कमरे पर चले गए।

पड़ोस में रहने वाले उमेश चंद्र जायसवाल का बेटा शशांक और सनी वहां पहुंचा और स्कूटी खड़ी देकर गालियां देने लगा। शशांक गालियां दे रहा था कि उसी समय सत्येंद्र सिंह भाई के कमरे से निकलकर नीचे आ गए। उन्होंने शशांक को टोका तो उसने अपने भाई अभिजीत और परिवार के अन्य सदस्यों को बुला लिया। मनबढ़ों ने उनका गला कस दिया। सत्येंद्र सिंह चिल्लाए। आवाज सुनकर बंधू और उनके साथ कुछ और लोग दौड़कर पहुंचे लेकिन तब तक सत्येंद्र सिंह बेहोश होकर गिर चुके थे। बंधू और उनके साथ के लोग सत्येंद्र सिंह को लेकर छात्रसंघ चौराहे पर स्थित एक अस्पताल में पहुंचे। डॉक्टरों ने सत्येंद्र सिंह को देखने के बाद उन्हें मृत घोषित कर दिया।

भाजपा नेता के भाई की हत्या की खबर मिलते ही कैंट थाने की पुलिस तत्काल हरकत में आ गई। कैंट इंस्पेक्टर रवि राय ने अपने सहयोगियों के साथ पहुंचकर उमेश चंद्र जायसवाल, उसकी पत्नी तथा बेटों को गिरफ्तार कर लिया। एसपी सिटी विनय सिंह और सीओ कैंट प्रभात राय भी तत्काल अस्पताल पहुंच गए। भाजपा के नेता तथा बड़ी संख्या में बंधू सिंह के परिचित और समर्थक भी पहुंच गए। पुलिस ने कानूनी कार्रवाई पूरी कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

यहां पढे़ं पूरी खबर - http://v.duta.us/zSEY-gAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬