[bilaspur] - दूसरे प्रदेश के अपराधी शहर में दे रहे वारदातों को अंजाम,मुसाफिरी दर्ज नहीं होने से बढ़े जुर्म

  |   Bilaspur-Chattisgarhnews

बिलासपुर. दूसरे प्रदेशों के अपराधी शहर में खुलेआम वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। २१ नवंबर की रात सरकण्डा के चिल्हाटी में डकैती की घटना ने पुलिस की पोल खोलकर रख दी। राजस्थान व एमपी से आए ४ आरोपियों ने दो परिवारों के ५ सदस्यों को घायल कर लूटपाट की। घटना के बाद पुलिस ने शहर में दूसरे प्रदेशों से आकर व्यवसाय करने वाले ४० अनजान व्यक्ति मिले।

पुलिस के आला अधिकारी शहर में बेसिक पुलिसिंग का पालन करने का दावा कर रहे हैं लेकिन इन दावों की हकीकत कागजी घोड़े दौड़ाने से अधिक नहीं है। सच तो यह है कि जिले के किसी भ्भी थाने में पुलिस परंपरागत बेसिक पुलिसिंग का पालन नहीं कर रही है। दूसरे प्रदेशों से आकर शहर में व्यवसाय करने वाले लोगों के नाम-पते संबंधित थानों में दर्ज करने थानेदारों को आदेश दे रखे हंै । ताकि बाहरी लोगों का रिकार्ड पुलिस के पास उपलब्ध रहे लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। अपराधिक घटनाएं होते ही पुलिस मुसाफिरों की जांच करती है ताकि पता चल सके कि वारदात को बाहर से आए लोगों ने अंजाम तो नहीं दिया है।...

फोटो - http://v.duta.us/W1KD7wAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/dYS66wAA

📲 Get Bilaspur-Chattisgarhnews on Whatsapp 💬