[budaun] - गंगा मइया की चरण रज माथे से लगाई और दोबारा आने की दुआ मांगकर रवाना हुए कल्पवासी

  |   Budaunnews

गंगा मैया की चरण रज माथे से लगाई और दोबारा आने की दुआ मांगकर रवाना हुए कल्पवासी

अब भी हजारों की संख्या में श्रद्धालु मेेले में मौजूद

मेला ककोड़ा। पतित पावनी गंगा के तट पर लगा मेला ककोड़ा धीरे-धीरे उखड़ने लगा है। कल्पवासियों ने रविवार को सुबह गंगा में डूबकी लगाई और सूर्य को अर्घ्य देने के साथ पूजा अर्चना की। मां गंगा की चरण रज माथे से लगाई और परिवार सहित निजी वाहनों से अपने घर को रवाना हो गए। इन कल्पवासियों में ज्यादातर दूर दराज से आने वाले हैं। हालांकि अब भी काफी संख्या में कल्पवासी गंगा तट पर रुके हैं। रविवार को भी मेला ककोड़ा में खरीदारी का सिलसिला जारी रहा। तंबुओं के घरों में रह रहे परिवारों की महिलाओं, बच्चों और बड़ों ने अपने-अपने तरीके से मौज मस्ती की।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/W8A0UAAA

📲 Get Budaun News on Whatsapp 💬