[haridwar] - लाठियां फटकार कर भाजपाइयों को खदेड़ा

  |   Haridwarnews

ब्यूरो/अमर उजाला, हरिद्वार

कुछ माह पूर्व शंकर आश्रम तिराहे के पास भाजपा नेता विष्णु अरोड़ा से हुई मारपीट के प्रकरण में नामजद युवक सुमित चौधरी के कनखल थाना कैंपस में मौजूद होने की सूचना पर भाजपाइयों ने थाने पहुंचकर जमकर हंगामा काटा। समझाने बुझाने पर भी जब भाजपाई शांत नहीं हुए तब पुलिस ने लाठियां फटकार कर उन्हें दूर तक खदेड़ दिया। देर रात युवक को भी सुरक्षा के बीच थाने से सुरक्षित स्थान पर भेजा गया।

नगर निकाय चुनाव के मद्देनजर हुई रंजिश के चलते सोनू निवासी द्वारिका विहार कालोनी और राहुल निवासी शांतिपुरम कालोनी के बीच शनिवार को मारपीट हो गई थी। मारपीट में हल्की फुल्की चोट आने पर सोनू अपने चचेरे भाई सुमित चौधरी को लेकर कनखल थाने शिकायत करने पहुंचा। इधर, कुछ माह पहले भाजपा नेता विष्णु अरोड़ा से हुई मारपीट के मुकदमे में नामजद सुमित चौधरी के थाने में होने की जानकारी मिलने पर भाजपाई एकत्र होकर वहां पहुंच गए। भाजपाइयों ने मुकदमे में नामजद सुमित चौधरी को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग उठाई। कनखल पुलिस ने जब ज्वालापुर पुलिस से संपर्क साधा तब पता चला कि मारपीट के प्रकरण में आरोप पत्र कोर्ट भेजा जा चुका है। कनखल पुलिस ने भाजपाइयों को समझाया कि मामला उनके क्षेत्र का नहीं है और ज्वालापुर पुलिस मुकदमे में आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है। ऐसे में अब अग्रिम कार्रवाई कोर्ट के आदेश पर ही होगी। भाजपाई जब सुनने को राजी नहीं हुए तब पुलिस ने लाठियां फटकार कर उन्हें खदेड़ दिया। भाजपाइयों के लौटने के बाद पुलिस ने सुरक्षा के बीच युवक को सुरक्षित स्थान तक छुड़वाया। एसओ ओमकांत भूषण ने बताया कि पूरे मामले से कनखल पुलिस का कोई लेना देना नहीं है। सोनू नाम के युवक की शिकायत पर जांच कर रहे हैं। बता दें कि शंकर आश्रम तिराहे के पास रेडीमेड गारमेंटस की दुकान चलाने वाले मुजफ्फरनगर निवासी सुमित चौधरी पर अपने साथियों के साथ भाजपा नेता विष्णु अरोड़ा से मारपीट करने और फायर झोंकने का आरोप लगा था और इस संबंध में केस भी दर्ज हुआ था।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/RDBMbgAA

📲 Get Haridwar News on Whatsapp 💬