[jashpur-nagar] - सरकारी डाक्टरों की ड्यूटी में लापरवाही से चार घंटे तक नहीं हो सका पोस्टमार्टम

  |   Jashpur-Nagarnews

जशपुरनगर. जिला अस्पताल में पदस्थ डाक्टर और कर्मचारियों के द्वारा अपनी ड्यूटी में लापरवाही बरते जाने का मामला एक बार फिर प्रकाश में आया है। इस बार अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के कारण मानवता शर्मसार हुई है। १५ वर्षीय बालक के द्वारा अज्ञात कारणों से फांसी से लगा लेने के बाद उसके परिजनों को घंटो पीएम कराने के लिए चीर घर के पास इंतजार करना पड़ा। मृतक के परिजन शव का पीएम कराने के लिए मुक्तिधाम में बने चीर घर लेकर आए थे, लेकिन उनके पंहुचने के २ घंटे बाद तक शव का पीएम करने के लिए ना तो कोई डाक्टर पंहुचा और ना ही कोई कर्मचारी आया था। जिसके कारण मृतक के परिजनों को परेशानी का सामना करना पड़ा। मामला सिटी कोतवाली क्षेत्र के लुईकोना पाठ की है। मामले के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार लुईकोना निवासी जुगल यादव का १५ वर्षीय बेटा अनुज यादव शनिवार की दोपहर २ बजे अपने घर से मवेशियों को चराने के लिए निकला था। जो देर शाम तक अपने घर वापस नहीं आया है। शाम को ६ बजे जुगल यादव की मवेशियां अपने से ही घर पंहुच गई थी लेकिन उसका बेटा घर नहीं पंहुचा था।...

फोटो - http://v.duta.us/nFTbcQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/qpfo6gAA

📲 Get Jashpur-Nagarnews on Whatsapp 💬