[morena] - mp election result 2018: मतदान केंद्र न बनाए जाएं तो बदहाल ही रह जाएं स्कूल

  |   Morenanews

मुरैना. चुनाव लडऩे वाले हर उम्मीदवार की इच्छा रहती है कि मतदान केंद्र सरकारी भवनों में ही बनें। तर्क यह होता है कि निजी भवन की व्यवस्थाएं प्रभावित रहती हैं। प्रशासन भी कोशिश करता है कि अधिकतम मतदान केंद्र सरकारी भवनों में ही होंं। अधिकांश मतदान केंद्र स्कूल भवनों में ही बनाए जाते हैं। लेकिन इन भवनों की दुर्दशा पर पूरे पांच साल तक ध्यान नहीं दिया जाता है। चुनाव के समय मिलने वाले फंड से ही इन भवनों में हल्के मरम्मत कार्य, अस्थाई पेयजल व्यवस्था और बिजली का इंतजाम होता है। इस समय कूलर-पंखों की भले ही जरूरत न हो, लेकिन गर्मियों में यहां बिजली और पंखों के अभाव में न केवल विद्यार्थी बल्कि शिक्षक भी परेशान होते हैं। पत्रिका ने कुछ मतदान केंद्रों की स्थिति देखी तो सबसे बड़ी समस्या बिजली की ही मिली।...

फोटो - http://v.duta.us/hbf85QAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/5FFrtQAA

📲 Get Morena News on Whatsapp 💬