👉बिप्लब देव ने त्रिपुरा के मुख्यमंत्री पद की ली 🤚शपथ

  |   समाचार

त्रिपुरा में बिप्लब देव ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है. शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह सहित बीजेपी के कई बड़े नेता मौजूद रहे.

शपथ ग्रहण के बाद सीएम बिप्लब देव ने कहा कि राज्य का विकास उनके एजेंडे में है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास मॉडल को लागू करेंगे. विकास ही उनकी प्राथमिकता रहेगी और वह त्रिपुरा को 'श्रेष्ठ राज्य' बनाएंगे।उन्होंने राज्य में मिली बड़ी जीत और जिंदगी में आए परिवर्तन का श्रेय अमित शाह को दिया और कहा कि त्रिपुरा में वामपंथ का किला ढहाने की जिम्मेदारी चुनौतीपूर्ण थी.

गौरतलब है कि त्रिपुरा विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की अगुवाई में प्रदेश में पहली सरकार बनी है. प्रदेश की सत्ता पर करीब ढाई दशक से काबिज वाम दलों के किले को ढहाकर भाजपा ने अपना परचम लहराया है. भाजपा-आईपीएफटी ने 18 फरवरी को हुए विधानसभा चुनाव में 59 में से 43 सीटों पर कब्जा जमाया है. प्रदेश के 60 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा ने 35 सीटों पर जीत दर्ज की है वहीं आईपीएफटी की झोली में आठ सीटें आई हैं.

बिप्लब कुमार देब का जन्म 25 नवंबर 1969 को त्रिपुरा में गोमती जिले के राजधर नगर गांव में एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था. उनके पिता हराधन देब जनसंघ के स्थानीय नेता थे. बिप्लब देब ने त्रिपुरा के उदयपुर कॉलेज से 1999 में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की. इसके बाद वह आगे की पढ़ाई के लिए दिल्ली चले गए.

मीडिया रिपोर्ट के हवाले से खबर है कि शुरुआत में उन्होंने जिम इंस्ट्रक्टर का भी काम किया, लेकिन देब ने इसे खारिज कर दिया और कहा कि वह जिम सिर्फ एक्सरसाइज करने जाते थे. दिल्ली में वह राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ से जुड़े और 16 साल तक संघ के कार्यकर्ता बने रहे. उन्होंने संघ के दिग्गज नेताओं गोविंदाचार्य और कृष्णगोपाल शर्मा के संरक्षण में ट्रेनिंग ली. बिप्लब देब की पत्नी नीति स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में अधिकारी हैं. बिप्लब देब के दो बच्चे एक बेटा और एक बेटी है.

यहां देखें फोटो-http://v.duta.us/qn7dAAAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬