👉केजरीवाल सरकार के सलाहकारों पर 👊कर्रवाई, अजय माकन ने कहा ये बीजेपी 🌷और आप की 'सेटिंग' है!

  |   समाचार

दिल्ली में उपराज्यपाल द्वारा केजरीवाल सरकार के 9 सलाहकारों को बर्खास्त करने के मामले में आम आदमी पार्टी और बीजेपी के बीच आरोप-प्रत्यारोप चल रहा है। इस मामले को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने नया एंगल देते हुए दावा किया है कि एलजी की कार्रवाई बीजेपी और आप की आपसी मिलीभगत है। माकन ने आरोप लगाया है कि ये कार्रवाई लोकसभा चुनाव में 'सहानुभूति' जुटाने की कवायद है क्योंकि जिन्हें पद से हटाया गया है उनमें से कुछ को आम आदमी पार्टी लोकसभा चुनाव में उतार सकती है।

अजय माकन ने शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि इसमें केजरीवाल सरकार द्वारा की गई नियुक्तियों के 71 मामलों पर सवाल उठाए थे। दरअसल केजरीवाल सरकार ने आम आदमी पार्टी से जुड़े लोगों को मोटी तनख्वाह पर सरकार में पद दिया था। हालांकि एक-आध ऐसे भी थे जो एक रुपए महीने पर पर नियुक्त हुए थे। बहरहाल शुंगलू कमिटी के मुताबिक इन नियुक्तियों के लिए जरूरी प्रावधानों का पालन नहीं किया गया था। अब एलजी ने 9 ऐसी नियुक्तियों को रद्द कर दिया है जो पद स्वीकृत ही नहीं थे।

अजय माकन का कहना है कि शुंगलू कमिटी ने नवंबर 2016 में अपनी रिपोर्ट सौंपी और 71 नियुक्तियों पर सवाल उठाए। लेकिन कार्रवाई लगभग डेढ़ साल बाद हुई है वो भी कुछ पर ही। जिन पर कार्रवाई हुई है उनमें से कम से कह तीन लोग पहले ही पद छोड़ चुके हैं। इन तीन में राघव चड्ढा भी शामिल हैं जिनको लेकर शुंगलू कमिटी ने भी कोई विशेष नकारात्मक टिप्पणी नहीं की थी।

यहां पढ़ें पूरी खबर-http://v.duta.us/7nB2NwAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬