[azamgarh] - धूमधाम से मनाई परशुराम जयंती

  |   Azamgarhnews

आजमगढ़। अक्षय तृतीया पर अखिल भारत वर्षीय ब्राह्मण महासभा की ओर से चन्द्रमा ऋषि आश्रम सिलनी में नवनिर्मित परशुराम मंदिर में परशुराम जयंती बुधवार को धूमधाम से मनाई गई। मंदिर में स्थापित मूर्ति का शास्त्रीय विधि से पूजन और हवन किया गया। मूर्ति स्थापना में मुख्य भूमिका के लिए पंडित सुभाष चन्द्र तिवारी कुन्दन को आश्रम के महंथ बमबम गिरि और महासभा के जिलाध्यक्ष रामप्रकाश त्रिपाठी ने अंगवस्त्रम भेंटकर सम्मानित किया। ज्योतिषाचार्य प्रो. प्रभुनाथ सिंह मयंक ने कहा कि क्रांतिवीर परशुराम शस्त्र-शास्त्र के अवतारी आचार्य थे। विष्णु के अवतार शिवभक्त और पिता के आज्ञा पालक परशुराम ने अंहकारी, अन्यायी, आतंकी सहस्रबाहु और उसके पुत्रों का वध करके धरती पर शांति, सुरक्षा, न्याय, धर्म एवं वैदिक मर्यादाओं की स्थापना की थी। साहित्यकार प्रभुनारायण पांडेय प्रेमी ने कहा कि वर्तमान विश्व में व्याप्त भय वातावरण और असुरक्षा से मुक्ति दिलाने हेतु भगवान परशुराम की रक्षाकारी भूमिका स्पृहणीय है। अध्यक्षता बमबम गिरी और संचालन पंडित सुभाष चन्द्र तिवारी कुन्दन ने किया। रामप्रकाश त्रिपाठी ने आभार प्रकट किया। पंडित शशिधर मिश्र आचार्य, ललित मोहन उपाध्याय, धनश्याम तिवारी, सतीश मिश्र, विशाल उपाध्याय, भवेश मिश्र, संजय कुमार पांडेय, विजय शंकर मिश्र, रजनीकांत तिवारी, हरिकेश मिश्र, सोनू मिश्र आदि मौजूद रहे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_JZSYQAA

📲 Get Azamgarh News on Whatsapp 💬