[azamgarh] - लूट के एक लाख रुपये से खरीदे थे चार पिस्टल

  |   Azamgarhnews

आजमगढ़। रानी की सराय और गंभीरपुर थाने की पुलिस के हत्थे रविवार की सुबह चढ़े चार बदमाशों ने बताया कि इन सभी ने निजामाबाद के एक प्रधान की हत्या के लिए लूट के एक लाख रुपये से चार पिस्टल खरीदे थे। असलहा आने के बाद हत्या की पूरी योजना तैयार कर घटना को अंजाम देने जा रहे थे। उससे पहले ही पुलिस के हत्थे चढ़ गए। पुलिस ने बदमाशों की गिरफ्तारी के साथ ही दो पिस्टल तो बरामद कर ली, लेकिन दो पिस्टल लेकर अभी भी इनका एक साथी फरार है। जिसकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है। मेंहनगर थाना क्षेत्र के जमकी गांव निवासी अमरजीत यादव, गोला बाजार निवासी रवि साहू, सोनू उर्फ सूफियान, हटवा खालसा गांव निवासी पंकज यादव, वीरभानपुर गांव निवासी मुन्ना उर्फ तिलकराज सिंह जेल में निरुद्ध एक बदमाश द्वारा दी गई 15 लाख रुपये की सुपारी के तहत निजामाबाद थाना क्षेत्र के रहने वाले एक ग्राम प्रधान की हत्या करने के लिए योजना बनाए। इसके तहत चार अप्रैल की शाम सिधारी थाना क्षेत्र के मूसेपुर रेलवे क्रासिंग के पास डाबर कंपनी के सेल्समैन और चालक को तमंचा सटाकर एक लाख रुपये के करीब लूट लिया। लूट के इन रुपयों से बदमाशों ने 25-25 हजार रुपये में चार पिस्टल और आठ कारतूस खरीदे। साथ ही हत्या करने के बाद फरारी के दौरान भाड़ा, किराया के लिए ताबड़तोड़ और कई लूट की घटनाओं को अंजाम दिया। ताकि इनके पास पर्याप्त रकम मौजूद रहे। असलहा और रुपये इकट्ठा होने के बाद 15 अप्रैल दिन रविवार की भोर में योजनाबद्ध तरीके से घटना को अंजाम देने के लिए सभी अलग-अलग रास्ते से निकलकर मोहम्मदपुर बाजार के पास फरिहां मोड़ पर मिलने की योजना थी। उसऊसे पहले ही इस गिरोह के चार सदस्य गिरफ्तार कर लिए गए। जबकि पांचवा साथी सोनू उर्फ सूफियान फरार हो गया। गिरफ्तार इन चार बदमाशों के पास से पुलिस ने दो पिस्टल बरामद कर ली। जबकि दो पिस्टल लेकर सूफियान अभी भी फरार है। जिसकी तलाश की जा रही है। बता दें कि इन बदमाशों को जेल में निरुद्ध एक बदमाश ने अपने विपक्षी ग्राम प्रधान की हत्या करने के लिए 15 लाख रुपये की सुपारी दी थी। पेशगी के तौर पर 50 हजार रुपये भी उपलब्ध कराया था। उससे पहले ही बदमाशों के योजना का भंडाफोड़ हो गया और पुलिस गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर ली। इस बावत एसपी नरेंद्र प्रताप सिंह का कहना था कि लूट के एक लाख रुपये से इन बदमाशों ने चार पिस्टल और आठ कारतूस खरीदे थे। इसमें से दो पिस्टल आरोपियों की गिरफ्तारी होने पर बरामद कर ली गई। जबकि दो पिस्टल लेकर इनका एक साथी अभी भी फरार है। जिसकी तलाश की जा रही है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/gH7h_wAA

📲 Get Azamgarh News on Whatsapp 💬