[banda] - आग ने ढाया कहर, दर्जन भर मकान जले

  |   Bandanews

भीषण धूप और गर्म हवाओं से जूझ रहे जिले में बुधवार को छह से ज्यादा आग की घटनाएं हुईं। इसमें दर्जनों मकान, खलिहान और लाखों रुपये का सामान जलकर राख हो गया। आग बुझाने में कुछ लोग मामूली रूप से झुलस भी गए। ग्रामीणों और फायर ब्रिगेड कर्मियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग बुझाई।

बबेरू तहसील के मरका (सांड़ा) गांव में भुरवा पुत्र मुनुवा यादव के खपरैलदार मकान में तड़के आग लग गई। शादी के लिए रखे जेवरात, कपड़े समेत गृहस्थी का सामान जलकर राख हो गया। ग्रामीणों ने की मदद आग बुझाई। लेखपाल ने मौका मुआयना कर लगभग साढ़े तीन लाख का नुकसान बताया है। गृहस्वामी ने बताया कि बुधवार को पुत्र ऊदल की बारात जानी है। शादी का सारा सामान जल गया। उधर, बिसंडा थाना क्षेत्र के बड़ागांव में शिवशंकर पुत्र लक्ष्मी के खेत में आग लग गई। खेत में पड़ी फसल जल गई। मझीवां गांव में शिव गोपाल पुत्र रामसिया, पप्पू पुत्र रामनरेश के छान छप्पर में आग लग गई। आग की वजह शार्ट सर्किट बताई गई है।

अतर्रा के महोतरा (ऊसरा पुरवा) गांव में लालाराम पुत्र लक्ष्मण व रामविलास पुत्र रामगोपाल के घर अचानक आग लग गई। अनाज व गृहस्थी समेत सामान जलकर राख हो गया। फायर ब्रिगेड व ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। लेखपाल ने मौका मुआयना कर उच्चाधिकारियों को सूचना दी। आग की वजह शार्ट सर्किट बताई जा रही है।

खप्टिहा कलां के सांड़ी गांव के अमान डेरा में छह मकान आग की भेंट चढ़ गए। प्रधान पतिराखन निषाद ने पुलिस व राजस्व विभाग को सूचना दी। बताया कि सर्वाधिक नुकसान कल्लू पुत्र जवाहरलाल निषाद, राजकमल पुत्र गयादीन निषाद का हुआ। इनके अलावा रामरूप, मइयादीन, सुरेंद्र निषाद, शिवनारायण के घर भी स्वाहा हो गए। चौकी इंचार्ज रामनारायण नायक, तहसीलदार धीरेंद्र कुमार भी मौके पर पहुंच गए। ग्रामीणों की मदद से फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया।

नरैनी खलारी (गाजीपुर) गांव में कमलेश पुत्र मन्ना के खलिहान में मंगलवार की देर रात आग लग गई। चार बीघा में पैदा हुई अरहर की फसल राख हो गई। यहां से उठी चिंगारी ने पास में स्थित इंद्रपाल पुत्र गुलजारी के मकान को भी चपेट में ले लिया। चार बैलगाडिय़ां, भूसा और मकान जल गया।

कमासिन के क्षेत्र के दलपा पुरवा में बुधवार को दोपहर राजेश प्रजापति के मकान में भीषण आग लग गई। बुझाते समय दीवार गिरने से भवन स्वामी राजेश घायल हो गया। ग्रामीणों ने मलबे से उसे बाहर निकाला। ग्राम प्रधान सहित ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। घर-गृहस्थी जलकर राख हो गई। फायर ब्रिगेड का फोन लगातार व्यस्त रहा। डीडीसी मुन्ना गुप्ता और समाजसेवी रामजी ने बताया कि आग से राजेश का परिवार सड़क पर आ गया। आग का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/HLUfOgAA

📲 Get Banda News on Whatsapp 💬