[jhajjar-bahadurgarh] - फांस जलाने के लिए लगाई आग की चपेट में आने से 27 एकड़ गेहूं की खड़ी फसल जली

  |   Jhajjar-Bahadurgarhnews

अमर उजाला ब्यूरो बेरी (झज्जर)।उपमंडल के गांव डीघल में बुधवार सुबह 10 बजे किसानों की तैयार खड़ी गेहूं की फसल में आग लगाने से किसानों की छह माह की मेहनत पर पानी फिर गया। किसानों ने खेतों में लगी आग की सूचना फायर बिग्रेड को दी। सूचना मिलने के बाद दमकल विभाग की तीन गाड़ियों मौके पर पहुंची लेकिन तब तक किसान ट्रैक्टर से खेतों की जुताई करके फसल में लगी आग पर काबू पा चुके थे।किसानों का कहना है कि बालंद गांव की तरफ एक किसान ने अपने खेत में गेहूं के फांसों में आग लगा रखी थी। तेज हवा चलने से फांसों में लगी आग बढ़ती हुई उनके खेत तक आ गई। इससे करीब 27 एकड़ में खड़ी गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। किसानों ने अपने स्तर पर आग पर काबू पाने का प्रयास किया लेकिन आग इतनी भयंकर तरीके से फैली हुई थी कि आग पर काबू पाना मुश्किल हो गया। किसानों ने अपने ट्रैक्टरों से खेत की जुताई करके आग पर काबू पाया। किसानों का कहना था कि समय रहते आग पर काबू नहीं किया जाता तो 100 एकड़ से ज्यादा फसल का नुकसान हो जाता। किसान ने बताई आंखों देखीडीघल निवासी किसान वेदपाल ने बताया कि सुबह करीब 10 बजे बालंद की सीमा में एक किसान ने अपने खेतों में गेहूं के फांसों में आग लगा रखी थी। तेज हवा चलने से डीघल की तरफ खेतों में तैयार खड़ी किसानों की फसल में आग की चिंगारी आ गई। खेतों में कंबाइन से गेहूं की कटाई करवा रहे किसानों ने गेहूं की फसल में आग लगी देखी तो तुरंत सूचना दमकल विभाग को दी। लेकिन दमकल विभाग की गाड़ी जब तक घटनास्थल पर पहुंची तब तक किसानों की गेहूं की फसल जलकर नष्ट हो गई थी, आगजनी की घटना में किसानों को बहुत ज्यादा नुकसान हुआ है, किसानों ने प्रशासन से जल्द मुआवजा देने की गुहार लगाई है।इन किसानों की फसल जलकर हुई राख गांव डीघल निवासी वेदपाल चार एकड़, सत्यनारायण दो एकड़, अनूप डेढ़ एकड़, जयभगवान डेढ़ एकड़, जमल डेढ़ एकड़, विष्णु पुत्र तेजा दो एकड़, भाने डेढ़ एकड़, खजान डेढ़ एकड़, रविंद्र दो एकड़, जगबीर पुत्र शेर सिंह डेढ़ एकड़, महेंद्र पुत्र शेर सिंह डेढ़ एकड़, सुखबीर पुत्र मोजी राम एक एकड़, जयपाल पुत्र जागेराम डेढ़ एकड़, समुंद्र पुत्र भरतू की चार एकड़ गेहूं की फसल में आग की चपेट में आई है।वर्जन गांव डीघल में किसानों के खेतों में गेहूं की खड़ी फसल में आग लग गई, जिससे किसानों की 25 से 30 एकड़ गेहूं की फसल जलकर राख हो गई। फांस की आग से निकली चिंगारी ने गेहूं की फसल खाक की है। दमकल की तीन गाड़ियों ने आग पर काबू पाया है। - सज्जन कुमार, एएसआई, डीघल चौकी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/2Ecy6gAA

📲 Get Jhajjar Bahadurgarh News on Whatsapp 💬