[rampur] - बिजली के तार टूटने से फसल जली, हाईवे पर हंगामा

  |   Rampurnews

बिजली के तार किसानों के लिए मुसीबत बने हुए हैं। कहीं बिजली के तार टूटने तो कहीं बिजली के तारों से उठी चिंगारी से लाखों रुपये की फसल जलकर राख हो गई। मिलक क्षेत्र के खाता चिंतामन में फसल जलने पर गुस्साए किसानों ने हाईवे पर जाम लगा दिया। बाद में पुलिस ने आधे घंटे की मशक्कत कर जाम खुलवाया।

शहजादनगर थाना क्षेत्र के ग्राम डुंडई में पांच किसानों के खेत में आग लग गई। इससे गेहूं की तीन एकड़ फसल राख हो गई। इसी तरह, थाना शहजादनगर क्षेत्र स्थित डुंडई गांव में सद्दीक, अब्बलसेन, अकबर अली, इस्हाक़, इस्ताहक के खेत आस पास में है। इनमे गेहूं की फसल तैयार थी।

बुधवार को दोपहर करीब तीन बजे अचानक गेहूं की फसल से लपटे निकलने लगी। सूचना पर खेत मालिक मौके पर पहुंचे आैर किसी तरह आग पर काबू पाने की असफल कोशिश की। कई घंटों की मेहनत के बाद आग पर काबू पाया गया, लेकिन जब तक तीन एकड़ फसल जलकर राख हो चुकी थी।

खेत स्वामी ने बताया कि उसे शक है कि किसी राहगीर ने बीड़ी पीकर खेत के पास फेंक दी, जिससे आग लग गई। बताया कि आग से करीब एक लाख रुपये का नुकसान हुआ है। इसके अलावा मिलक क्षेत्र के खाता चिंतामन और बृजपुर के मझरा गांव में 17 लोगों के गेहूं की फसल बिजली का तार टूटने से आग से राख हो गई।

गांव वालों ने गुस्से में रठौंडा-धमोरा मार्ग जाम लगा दिया। एसडीएम मिलक और एसओ मिलक ने मौके पर पहुंचकर किसानों को समझाकर जाम खुलवाया। आग से 30 एकड़ फसल जलने का अनुमान है। पीडित महेंद्र, जागन , झम्मन, सुभाष, हरिमोहन, फरयाद, चुन्ने खान, तेजराम, डालचंद, विजयपाल, रामप्यारी, नरेश, पसुराम, तोताराम, राजपाल, नंदकिशोर, भूरी देवी की मुआवजे की मांग की है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/LqImSAAA

📲 Get Rampur News on Whatsapp 💬