[uttarkashi] - वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने भारत-चीन सीमा क्षेत्र में भरी उड़ान-compat

  |   Uttarkashinews

चिन्यालीसौड़ (उत्तरकाशी)। भारतीय वायुसेना के सबसे बड़े युद्धाभ्यास ‘गगन शक्ति’ के तहत दूसरे दिन बुधवार को भी जिले में सेना के विमान एवं हेलीकॉप्टरों ने उड़ान भरी। हालांकि आज चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी और हर्षिल हेलीपैड पर सैन्य गतिविधियां नहीं हुईं। सेना के विमानों ने भारत-चीन सीमा क्षेत्र में उड़ाने भरीं। बता दें कि मंगलवार को ऑपरेशन ‘गगन शक्ति’ के तहत सेना के हेलीकॉप्टरों ने हर्षिल हेलीपैड से सेना के पैरा कमांडोज को लिफ्ट कर उन्हें चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी पर उतारने और यहां से वायुसेना के एएन-32 विमान द्वारा इन पैरा कमांडोज को लिफ्ट कर पिथौरागढ़ छोड़ने का अभ्यास किया था। इस ऑपरेशन के दूसरे दिन बुधवार की सुबह भी जिले के आसमान में वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने उड़ानें भरीं। दिल्ली आदि एयर बेस से इन विमानों ने भारत-चीन सीमा क्षेत्र में उड़ान भरी।बताया जा रहा है कि चिन्यालीसौड़ हवाई पट्टी पर अभी युद्धक विमानों की लैंडिंग और उड़ान लायक व्यवस्था नहीं है। पूर्व में परीक्षण के दौरान वायुसेना के अधिकारी युद्धक विमानों की लैंडिंग एवं उड़ान के लिए इस हवाई पट्टी के विस्तार की जरूरत बता चुके हैं। अभी यहां 1165 मीटर लंबा और 30 मीटर चौड़ा रनवे है, जबकि लड़ाकू विमानों के उतरने के लिए डेढ़ हजार मीटर लंबे रनवे और टर्निंग प्वाइंट पर पांच मीटर की अतिरिक्त चौड़ाई की जरूरत है। इस अभियान को लेकर सेना के अधिकारियों ने मीडिया से दूरी बनाए रखी। ऐसे में यह सैन्य अभ्यास कितने दिन चलेगा, इसकी कोई सूचना नहीं दी जा रही है। हालांकि डीएम डा.आशीष चौहान की मानें तो सेना की ओर से मिले पत्र में 17 एवं 18 अप्रैल को अभ्यास की सूचना दी गई थी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/sXm48wAA

📲 Get Uttarkashi News on Whatsapp 💬