आईपीएल में 🏏गेंदबाजों की दयनीय हालत पर😲इस ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने जताई 👊निराशा

  |   क्रिकेट

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ज्योफ लासन ने दुनिया भर में टी20 क्रिकेट, विशेषकर आईपीएल में गेंदबाजों की दयनीय स्थिति पर निराशा जताई और कहा कि अधिक संतुलन के लिए गेंदबाजों को मौके देना भी जरूरी है। लासन का यह बयान इस लिहाज से खास माना जा रहा है जब आईपीएल में छक्के और चौकों की बरसात हो रही है। अभी आधा टूर्नामेंट भी नहीं हुआ है और 22 मैचों तक ही 312 छक्के लग चुके हैं।

हालाकि लासन के बयान से पहले आईपीएल के पिछले सीजन्स में भी इस तरह के बयान आ चुके हैं, लेकिन कई विशेषज्ञों का यह मानना है कि बल्लेबाजों का पड़ला गेंदबाजों पर भारी होना ही चाहिए क्योंकि दर्शक छक्के चौके ही देखने आते हैं।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी लासन ने यहां क्रिकेट क्लब आफ इंडिया में ‘दूसरा राजसिंह डूंगरपुर स्पिरिट आफ क्रिकेट लेक्चर’ देने के बाद कहा, ‘‘गेंदबाजों को खेल में जगह नहीं दी जा रही, यह बेवकूफाना है। अब इसमें कोई प्रतिस्पर्धा नहीं है। यही कारण है कि आईपीएल बेहद सफल है। हमें गेंदबाजों को खेल में वापसी दिलानी होगी। हमें प्रतिस्पर्धा की जरूरत है।’’ पाकिस्तान के इस पूर्व राष्ट्रीय कोच ने कहा, ‘‘नये बल्लों के किनारे इतने (अपने हाथ से इशारा करते हुए) बड़े हैं। हमें वाइड के निशान को और आगे करना होगा।’’

अपने देश की ओर से 1980 के दशक में 46 टेस्ट में 180 विकेट चटकाने वाले लासनने कहा कि ऑस्ट्रेलिया की बिग बैश लीग में गेंदबाजों की सफलता की संभावना कुछ अधिक है। उन्होंने कहा, ‘‘विकेट में उछाल और बड़ी बाउंड्री के कारण बिग बैश में गेंदबाजों के पास कुछ अधिक मौके होते हैं। यह टी20 क्रिकेट नहीं है, यह सिर्फ बल्लेबाजी है।’’

यहां पढ़ें पूरी खबर-http://v.duta.us/PgIDKgAA

📲 Get क्रिकेट on Whatsapp 💬