😨 11 साल की मासूम से 😧 दुष्कर्म, 👮 पुलिस ने मामला दर्ज करने में लगाए घंटों

  |   समाचार

कठुआ और उन्‍नाव के बाद देशभर में रेप की घटनाओं का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है । इंदौर में पांच महीने का रेप और फिर उसकी हत्‍या के मामले में लोगों का आक्रोश कम भी नहीं हुआ था कि उज्जैन में एक 11 साल की बच्‍ची के साथ रेप की घटना ने फिर से इंसानियत को शर्मसार कर दिया है ।

उज्‍जैन जिले के गांव भादवा की रहने वाली 11 साल की मासूम बच्ची के साथ एक युवक ने रेप की वारदात को अंजाम दिया । युवक ने पीड़िता के साथ मारपीट भी की और जान से मारने की धमकी दी । पीड़िता ने परिजनों को घटना की जानकारी दी जिसके बाद झारड़ा पुलिस ने एफआईआर लिखने के लिए रेप पीड़िता को घंटो थाने पर बैठाए रखा । मेडिकल के बाद पीडि़ता को उज्जैन रैफर कर उपचार के लिए भर्ती करवाया गया है ।

उज्जैन जिले के महिदपुर तहसील के गांव भादवा निवासी लड़की अपने परिजनों के साथ बुआ के यहां शादी में गई थी । शादी के बाद घर लौटते समय इंदौख चौपाटी पर दादी ने लड़की को गांव के युवक उमरावसिंह की गाड़ी पर बैठा दिया । बच्‍ची की दादी ने युवक से बच्ची को घर छोड़ देने को कहा, लेकिन भगवानसिंह उसे जंगल में ले गया जहां पर उसने बच्‍ची के साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया । लड़की के विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की गई । बच्‍ची ने घरवालों को बताने की धमकी दी तो वह उसे बाइक पर बैठाकर दादी के पास छोड़कर भाग गया । चोट के निशान देखकर परिजनों ने बच्‍ची से पूछा तो उसने पूरी घटना बताई ।

इसके तुरंत बाद ही परिजन बच्‍ची को लेकर झारड़ा थाने पहुंचे । थाने में महिला पुलिसकर्मी के नहीं होने से पीड़ित परिवार को परेशान होना पड़ा । पुलिस ने घंटों पीड़िता को थाने पर बैठाए रखा । महिला पुलिस के आने पर दुष्कर्म की धारा और पाक्सो एक्ट के तहत एफआईआर दर्ज की गई । लेकिन झारड़ा में महिला डॉक्टर नहीं होने से मेडिकल के लिए पीड़िता को महिदपुर सरकारी अस्पताल भेजा गया । इसमें 6 घंटे लगे । घटना के बाद से आरोपी फरार है ।

फोटो के लिए देखें- http://v.duta.us/dkNDaQAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬