🚘 पेट्रोल-डीजल के बढ़ते 💰 दामों से जल्द नहीं मिलेगी 🤷‍♂️ राहत- केंद्रीय मंत्री

  |   समाचार

देश में बढ़ती पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि हमें इसे काबू में करने के लिए इसकी खपत कम करनी चाहिए क्योंकि हमें बाजार की ताकतों के हिसाब से अपने को तैयार करना होगा। बता दें कि अंतरराष्ट्रीय कारणों से वैश्विक स्तर पर कच्चे तेल के दाम में कमी आने के बाद भी देश में पेट्रोल का दाम बढ़ना जारी है।

राजधानी दिल्ली में पेट्रोल का दाम सोमवार को लगातार पांचवें दिन बढ़ते हुए 74.50 रुपये प्रति लीटर हो गया। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोमवार को कच्चे तेल का भाव टूटने से घरेलू वायदा बाजार में ऊंचे स्तर से कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट दर्ज की गई। वहीं केंद्रीय मंत्री के इस बयान से साफ है कि सरकार कीमतों को काबू करने के लिए कोई कदम उठाने नहीं जा रही है।

देश में बढ़ते ई-कॉमर्स व्यापार पर बोलते हुए सुरेश प्रभु ने कहा कि घरेलू बाजार में यह तेजी से बढ़ेगा और हम इसे बढ़ाने का प्रयास कर रहे हैं। कंज्यूमर के अधिकारों को ध्यान में रखते हुए हमें जल्द इस पर कोई नीति बनानी होगी। हमारे पास मौका है कि भारतीय ई-कॉमर्स कंपनियां ग्लोबल प्लेयर बन सकें।

इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) की वेबसाइट के मुताबिक, राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल 74.50 रुपये प्रति लीटर बिका, जबकि रविवार को यह 74.40 रुपये प्रति लीटर था। दिल्ली में पेट्रोल का भाव करीब पांच साल के सबसे ऊंचे स्तर पर बना हुआ है।

इससे पहले 14 सितंबर को पेट्रोल का दाम राजधानी में 76.06 रुपये प्रति लीटर हो गया था। कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में भी पेट्रोल की कीमतें नई ऊंचाइयों पर पहुंच गई हैं। कोलकाता में सोमवार को पेट्रोल 77.20 रुपये प्रति लीटर, मुंबई में 82.35 रुपये प्रति लीटर और चेन्नई में 77.29 रुपये प्रति लीटर बिका।

यहां पढ़ें पूरी खबर- http://v.duta.us/dUav3AAA

📲 Get समाचार on Whatsapp 💬