[etawah] - मई दिवस पर 20 बेटियों की शादी कराएगी सरकार

  |   Etawahnews

श्रम विभाग मई दिवस पर सामूहिक विवाह का आयोजन करेगा। शादी समारोह का यह आयोजन डिप्टी लेबर कमिश्नर की देखरेख में कानपुर नगर के शास्त्री नगर के सेंट्रल पार्क मेें होगा। जिसमें कुल 457 जोड़ों की शादी कराई जाएगी। इसमें जिले की 20 बेटियां भी शामिल हैं।

श्रम विभाग में पंजीकृत निर्माण कार्य से जुड़े श्रमिकों की दो बेटियों की शादी के लिए प्रदेश सरकार अनुदान दे रही है। इसमें सामान्य वर्ग के लिए 55 हजार और अंतरजातीय वर्ग में होेने वाली शादी के लिए 65 हजार रुपये अनुदान दिया जा रहा है। जो शादी के बाद आवश्यक कागजात प्रस्तुत करके प्राप्त किया जा सकता है। जबकि इससे अलग सामूहिक विवाह की स्थिति में विभाग खुद शादी समारोह का आयोजन करता है। विवाह के दौरान ही बेटी के श्रमिक पिता को अनुदान राशि उपलब्ध कराई जाती है।

जिले में करीब 46 हजार श्रमिक पंजीकृत हैं लेकिन सामूहिक विवाह योजना में सिर्फ 23 श्रमिकों ने ही आवेदन किया है। जिसमें तीन आवेदन निरस्त हुए। शेष 20 आवेदन स्वीकृत हुए। जिनका सामूहिक विवाह एक मई को कानपुर में होगा। जिला श्रम प्रवर्तन अधिकारी कुंवर सिंह ने बताया कि इस योजना के तहत विभाग से सामान्य शादियों के अनुदान दिया जाता रहा है। अब सामूहिक विवाह के तहत 20 श्रमिकों को लाभ दिया जाना है। मई दिवस पर कानपुर में शादी समारोह का आयोजन होगा। जिसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का शामिल होना प्रस्तावित है।

लाभार्थी के लिए शर्तें लागू

पुत्री विवाह अनुदान योजना का लाभ लेने के लिए सरकार ने शर्तें रखी हैं। इसमें उसी श्रमिक को लाभ दिया जाएगा जिसने करीब एक वर्ष पूर्व श्रम विभाग में पंजीकरण कराया हो और कम से कम तीन महीने तक निर्माण कार्य से जुड़ी मजदूरी की हो। दुकानों या प्रतिष्ठानों पर काम करने वाले लोग इस योजना में शामिल नहीं हैं।

उम्र की बंदिश भी

लाभार्थी की पुत्री की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए और पुत्र की उम्र 21 वर्ष होनी अनिवार्य है। अविवाहित पंजीकृत महिला श्रमिक भी स्वयं की शादी के लिए पात्र है। बशर्ते उसके पिता ने इस योजना का लाभ न लिया हो।

कम से कम 11 सामूहिक विवाह पर मिलेंगे 65 हजार

सामूहिक विवाह की स्थिति में कम से कम 11 जोड़ों की शादी होने पर अनुदान राशि 65 हजार रुपये मिलेगी। यह संख्या कम होने पर अनुदान राशि 55 हजार रहेगी। सामूहिक विवाह में कन्या व वर पक्ष के कुल 10 परिवारीजन ही शामिल हो सकेंगे।

श्रम प्रवर्तन विभाग में करें आवेदन

इच्छुक श्रमिक को इस योजना का लाभ लेने के लिए श्रम प्रवर्तन विभाग में आवेदन करना होता है। आवेदन के साथ श्रमिक को अपने पहचान पत्र की फोटो कापी, वर-वधू के आयु संबंधी प्रमाण पत्र, परिवार रजिस्टर की प्रमाणित प्रति, स्कूल छोड़ने का सर्टिफिकेट आदि कागजात जमा करने हाेंगे। यदि पुत्री गोद ली हुई है तो उससे संबंधित प्रमाणित अभिलेख भी प्रस्तुत करने होंगे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/01TTEgAA

📲 Get Etawah News on Whatsapp 💬