[faizabad] - वृक्षारोपण से जिले में बढ़ा 7 वर्ग किमी वन्य क्षेत्र

  |   Faizabadnews

पौधरोपण से जिले में बढ़ा सात वर्ग किमी. वन्य क्षेत्र फैजाबाद। पर्यावरण के लिहाज के अच्छी खबर है। जिले के वन्य क्षेत्र में सात वर्ग किमी की बढ़ोत्तरी दर्ज हुई है। फॉरेस्ट सर्वे ऑफ इंडिया की रिपोर्ट में सेटेलाइट से ली गई तस्वीर में यह खुलासा हुआ है। यह सर्वे हर दो साल पर होता है। यहां तेजी से बढ़ रही हरियाली के पीछे वन विभाग के अफसर सरयू और गोमती जैसी नदियों की वजह से बेहतर जलवायु मानते हैं। डीएफओ का कहना है कि नदियों की कक्षार से नमी के कारण पांच साल में हुए पौधरोपण का यह सकारात्मक परिणाम आया है। फॉरेस्ट सर्वे ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक फैजाबाद जिले की कुल भौगोलिक एरिया 2341 वर्ग किमी. है। यहां की कुल जनसंख्या 2011 की गणना के अनुसार 24 लाख 70 हजार 996 है। यहां कुल वन्य क्षेत्र 86 वर्ग किमी. है। इसमें अति घना जंगल 6 वर्ग किमी. व मध्यम घना वन्य क्षेत्र 10 वर्ग किमी. है। जबकि खुला वन्य क्षेत्र 70 वर्ग किमी. है। सेटेलाइट से ली गई तस्वीरों के बाद जारी की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि 7 वर्ग किमी. वन्य क्षेत्र बढ़ा है। डीएफओ डॉ. रवि कुमार सिंह कहते हैं कि यह परिणाम पांच साल में हुए कुल करीब 7 हजार 5 सौ हेक्टेयर वृक्षारोपण का परिणाम है। हर साल डेढ़ हजार हेक्टेयर वृक्षारोपण होने का औसत है। एक वर्ग किमी में 100 हेक्टेयर होता है। ऐसे में सारे नुकसान के बाद 7 वर्ग किमी हरियाली में वृद्धि हुई है। इसकी वजह नम क्षेत्र है, जबकि शुष्क क्षेत्र वाले बुंदेलखंड व मिर्जापुर इलाके में वन क्षेत्र घटा है। यहां सरयू व गोमती जैसी नदियों के कारण जलवायु अनुकूल है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/0NebTwAA

📲 Get Faizabad News on Whatsapp 💬