[kathua] - परीक्षा न होने पर विद्यार्थियों ने किया जेके बोर्ड के खिलाफ प्रदर्शन

  |   Kathuanews

कठुआ। दसवीं की प्राइवेट परीक्षा पास करने के बाद इस वर्ष ग्यारहवीं कक्षा की परीक्षा न होने से परेशान विद्यार्थियों ने सोमवार को जेके बोर्ड के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि स्कूल में सारी परीक्षा देने के बाद बोर्ड ने फाइनल परीक्षा देने से मना कर दिया। उन्होंने कहा कि बोर्ड अगले साल परीक्षा करवाने की बात कर रहा है, जिससे उनका एक साल बर्बाद होगा। उन्होंने कहा कि बोर्ड प्राइवेट विद्यार्थियों का एक साल बर्बाद करने पर तुला हुआ है। इसे सहन नहीं किया जाएगा।प्रदर्शनकारियों में शामिल विद्यार्थियों ने कहा कि उन्होंने दसवीं कक्षा की परीक्षा प्राइवेट परीक्षा देकर पास की थी और उसके बाद 11वीं में दाखिला लिया। इसके बाद उन्होंने स्कूल में यू1 से लेकर टी 1 तक सभी परीक्षाएं दी, लेकिन अब जब बोर्ड की परीक्षा होनी है तो बोर्ड ने उन्हें परीक्षा देने से मना कर दिया है। उन्होंने कहा कि बोर्ड के अधिकारी से जब बात की गई तो उन्होंने कहा कि उनका नौ महीने का सेशन पूरा नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी इस प्रकार के विद्यार्थियों को रेगुलर विद्यार्थियों के साथ परीक्षा देने दी जाती थी, लेकिन इस बार बोर्ड ने बच्चों के लिए परेशानी खड़ी कर दी है। उन्होंने कहा कि बोर्ड ने आरआर फीस भी ले ली है और इसके बावजूद भी परीक्षा लेने से मना किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उन्होंने बोर्ड से यह भी मांग की कि अगर सेशन पूरा नहीं हुआ है तो दो महीने बाद परीक्षा ले। लेकिन इस पर भी बोर्ड ने मना कर दिया। उन्होंने कहा कि अब उन्हें अगले सेशन में परीक्षा देने की बात कही जा रही है। ऐसे में उन्हें एक कक्षा पास करने के लिए दो साल का समय लगेगा जो नाइंसाफी है। उन्होंने कहा कि वह इस प्रकार का रवैया सहन नहीं करेंगे और अगर बोर्ड ने परीक्षा नहीं ली तो वह उग्र रुख अपना लेंगे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/D6BknAAA

📲 Get Kathua News on Whatsapp 💬