[mirzapur] - सीयत ने करा दिया दादा की हत्या

  |   Mirzapurnews

अहरौरा। क्षेत्र के सोनवर्षा निवासी वृंदावन उर्फ इंदर की हत्या उसके पौत्र ने विवादित जमीन के वसीयत को लेकर हुए विवाद में की थी। वृंदावन ने नौ वर्ष पहले जिस भूखंड को बेटी के नाम बैनामा किया था उसी जमीन का वसीयत आरोपी पौत्र जितेंद्र ने अपने नाम करा लिया था। बाद भी जमीन पर कब्जा न कर पाने के चलते उसने दादा वृंदावन की हत्या कर दी गई। वृंदावन की ओर से जमीन का बैनामा बेटी के नाम करने को लेकर आए दिन विवाद हुआ करता था। छह माह पूर्व धान की फसल की कटाई के दौरान जितेंद्र और बचाऊ के बीच जमकर मारपीट हुई थी। एक बार फिर गेहूं के फसल की कटाई के दौरान विवाद काफी बढ़ गया था। इसमें एसडीएम द्वारा बचाऊ के पक्ष में फैसला मिलने से जितेंद्र हताश हो गया था। जितेंद्र को लगा कि वृंदावन के जीवित रहते हुए वसीयत किसी काम की नहीं है तो उसने वृंदावन की हत्या की साजिश रची। सुनियोजित तरीके से जितेंद्र ने शनिवार की मध्य रात्रि शौच के बहाने से सोनवर्षा स्थित रेलवे क्रासिंग के पास ले गया व कुल्हाड़ी से शरीर पर सात बार वार करने के बाद भी जब तसल्ली नहीं मिली तो उसने अपने दादा की गमछे से गला दबाकर हत्या कर दी। योजना बनाकर पुलिस को गुमराह करने करने के लिए दादा के अपहरण की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने आरोपी जीतेंद्र को रविवार को ही पकड़ लिया था। आरोपी की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी व गमछा को बरामद कर लिया है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/BeAFUAAA

📲 Get Mirzapur News on Whatsapp 💬